श्रीदेवी की मौत के करीब दो दिन बाद भी उनका पार्थिव शरीर अब तक भारत नहीं पहुंच पाया है. तमाम जांच प्रक्रिया और कानूनी औपचारिकताओं के चलते अब तक उनका पार्थिव शरीर भारत रवाना नहीं किया गया है. इधर, मुंबई में श्रीदेवी के तमाम प्रशंसक उनकी आखिरी झलक पाने के इंतजार में दिन रात एक किए हुए हैं. इस बीच दुबई पुलिस की ओर से संकेत मिले हैं कि श्रीदेवी का पार्थिव शरीर के भारत पहुंचने में देरी हो सकती है. दुबई के अखबार खलीज टाइम्स ने अपनी एक खबर में कहा कि मंगलवार दोपहर (स्थानीय समयानुसार) शव पर लेप लगाया जा सकता है. अभिनेत्री का शव लाने की प्रक्रिया तेज करने के लिए भारतीय दूतावास एवं वाणिज्य दूतावास अधिकारियों के साथ प्रयास कर रहे हैं. Also Read - Sridevi's death: Mumbai's social workers not satisfied with role of police | श्रीदेवी की मौत: पुलिस की भूमिका पर सामाजिक कार्यकर्ता एकमत नहीं

Also Read - Mortal remains of Sridevi wrapped in tricolour, accorded state honours | वीडियो: श्रीदेवी को दिया गया राजकीय सम्मान, तिरंगे में लपेटा पार्थिव शरीर

यह साफ नहीं हुआ है कि 54 वर्षीय अभिनेत्री किस कारण से बेहोश हुईं और क्या दिल का दौरा पड़ने से हुई मौत की शुरूआती खबर सच है. उनकी मौत से पूरे देश में उनके प्रशंसक और फिल्म जगत हैरान है. दुर्घटनावश डूबने की इस ताजा खबर से श्रीदेवी की मौत को लेकर बना रहस्य और गहरा गया है. उनके परिवार ने अभिनेत्री की मौत के बाद दिए गए शुरूआती बयान के बाद से कुछ नहीं कहा है और मीडिया से दुख के इस समय में उन्हें अकेला छोड़ देने का अनुरोध किया है. Also Read - An Indian had helped to send Sridevi's body to India | श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को स्वदेश भेजने में एक भारतीय ने की थी मदद

दुबई सरकार ने ट्विटर पर लिखा कि पुलिस ने मामला दुबई लोक अभियोजन को सौंप दिया है जो इस तरह के मामलों में अपनायी जाने वाली कानूनी प्रक्रिया का पालन करेगा. पहले दुबई पुलिस ने इस मामले में अपनी तरफ से हरी झंडी दे दी थी, लेकिन अब उसे प्रॉसिक्यूसन मजिस्ट्रेट के जवाब का इंतजार है. सूत्रों के मुताबिक दुबई पुलिस ने भारतीय अधिकारियों को बताया है कि मजिस्ट्रेट से हरी झंडी मिलने के बाद ही पार्थिव शरीर भारत भेजने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. मजिस्ट्रेट से हरी झंडी मिलने के बाद ही पार्थिव शरीर परिजनों को सौंपा जाएगा.

वहीं, भारतीय दूतावास भी इस पर करीबी नजर बनाए हुए है. यूएई में भारत के राजदूत नवदीप सूरी ने एएनआई से कहा कि हमारा दूतावास स्थानीय अधिकारियों के साथ लगातार बातचीत कर रहा है ताकि श्रीदेवी का पार्थिव शरीर भारत भेजा जा सके. उन्होंने कहा कि हम कपूर परिवार से भी संपर्क बनाए हुए हैं. ये हमारा कर्तव्य है कि श्रीदेवी का पार्थिव शरीर जल्द से जल्द भारत भेजा जा सके.

बाथटब में डूबने से श्रीदेवी  की मौत- रिपोर्ट

बता दें कि आज आई फोरेंसिक रिपोर्ट में नई जानकारी सामने आई है. गल्फ न्यूज के हवाले से आई रिपोर्ट के मुताबिक, फोरेंसिक रिपोर्ट में बताया गया है कि श्रीदेवी की मौत दुर्घटनावश बाथटब में डूबने से हुई. रिपोर्ट में कहा गया है कि श्रीदेवी के रक्त में अल्कोहल के नमूने भी मिले. संभावना जताई गई है कि श्रीदेवी संतुलन बिगड़ने से बाथटब में गिर गईं और डूबने से उनकी मौत हो गई.

सरकारी मीडिया ने भी दुबई पुलिस के हवाले से बताया कि श्रीदेवी की मौत की फोरेंसिक रिपोर्ट आ गई है और उनकी मौत बाथटब में डूबने से हुई है. इसी के साथ दुबई पुलिस ने केस सरकारी वकील को सौंप दिया है. दुबई पुलिस ने संकेत दिए हैं कि वह इस मामले की जांच जारी रखेगी.

पढ़ें- शराब के चलते बाथटब में डूबकर हुई श्रीदेवी की मौत, रिपोर्ट में कितना दम?  

बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा श्रीदेवी का शनिवार रात 54 साल की उम्र में हॉर्ट अटैक से दुबई में निधन हो गया था. श्रीदेवी अपनी छोटी बेटी खुशी और पति बोनी कपूर के साथ दुबई में अपने भांजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने के लिए गई हुई थीं. उनकी बड़ी बेटी जाह्मवी शूटिंग के सिलसिले में भारत में ही थीं. जिसने भी श्रीदेवी की मौत की खबर सुनी वह एकबारगी इस खबर पर विश्वास नहीं कर सका. हर आम और खास के लिए उनकी मौत किसी सदमे से कम नहीं थी. अब उनके प्रशंसकों को उनका पार्थिव शरीर मुंबई पहुंचने का इंतजार है.

(भाषा इनपुट)