कोलकाता: भारतीय नौसेना ने पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के गंगासागर मेले में एक विशेषज्ञ डाइविंग टीम तैनात की है. पूर्वी नौसेना कमान से भारतीय नौसेना डाइविंग टीम की तैनाती में 12 गोताखोर शामिल हैं और पश्चिम बंगाल के नौसेना अधिकारी द्वारा यहां देखरेख किया जा रहा है.

भारतीय नौसेना के एक बयान में कहा गया कि राज्य सरकार के विशेष अनुरोध पर भारतीय नौसेना (IN) ने मेले के दौरान किसी भी घटना के मामले में बचाव और राहत कार्यों के लिए 08 से 18 जनवरी 2020 तक विशेषज्ञ डाइविंग टीमों को तैनात किया है. विशेष रूप से लाखों श्रद्धालु मकर संक्रांति के अवसर पर सागर द्वीप गंगा नदी और बंगाल की खाड़ी के संगम पर स्थित द्वीप पर पहुंचते हैं. तीर्थयात्री पवित्र जल में डुबकी लगाते हैं और कपिल मुनि आश्रम में प्रार्थना करते हैं.

बता दें कि इस वर्ष कुंभ मेला नहीं होने के कारण गंगासागर मेले में 30 लाख तीर्थयात्रियों के जुटने की उम्मीद है. गंगा नदी और बंगाल की खाड़ी के संगम पर पवित्र स्नान करने के बाद न केवल देश, बल्कि पड़ोसी देश नेपाल, भूटान और बांग्लादेश के कई श्रद्धालु कपिल मुनि मंदिर में पूजा करने के लिए मेले में भाग लेते हैं.