नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश में एक बार फिर गैस रिसाव का मामला सामने आया है. यहां एक फैक्ट्री में गैस रिसाव के कारण 2 लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही अन्य 4 लोगों का अस्पताल में इलाज किया जा रहा है. खबरों के अनुसार मरने वाले में फैक्ट्री शिफ्ट इंचार्ज नरेंद्र और एक अन्य एम गौरी शंकर नाम का शख्स शामिल है. 29 जून की रात घटी इस घटना में 4 लोगों का अभी अस्पताल में इलाज चल रहा है. इस मामले पर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने संज्ञान लिया है.Also Read - प्रयागराज के इफको प्लांट में अमोनिया गैस हुई लीक, 2 अधिकारियों की मौत, 18 की हालत गंभीर

बता दें कि गैस लीक की घटना परवदा स्थित जवाहर लाल नेहरू फार्मा सिटी में घटी है. देर रात सैनार लाइफ साइंसेज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी से जहरीली गैस का रिसाव हुआ था. बेंजी मेडिजोल Benzi Medizol नाम की जहरीली गैस के लीक होने के कारण इलाके में अफरा तफरी का माहौल बन गया. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और घटना की जांच की जा रही है. साथ ही हादसे में शामिल लोगों से पूछताछ की जा रही है. Also Read - फार्मा कंपनी में गैस रिसाव से मचा हड़कंप, कई दमकलों की हुई तैनाती, जांच जारी

Also Read - LG पॉलिमर्स इंडिया के संयंत्र में प्रदर्शन करने जा रहे वाम दलों के कई कार्यकताओं के खिलाफ FIR

इस बाबत आंध्र प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय ने जानकारी दी कि मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने विशाखापत्तनम के परवाड़ा में साईं लाइफ साइंसेज फार्मा कंपनी में दुर्घटना के बारे में जानकारी ली है। कल रात 11.30 बजे रिसाव के कारण दुर्घटना हुई. एहतियात के तौर पर फैक्ट्री को तत्काल बंद कर दिया गया. गौरतलब है कि इससे पहले विशाखापत्तनम के एलजी पॉलिमर्स कंपनी में गैस लीक के कारण 11 लोगों की मौत हो गई थी.