नई दिल्ली: पूर्वी दिल्ली से सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने शहर के जीबी रोड (GB Road) इलाके की यौनकर्मियों (Sex Workers) की बेटियों की सहायता के लिए एक पहल की घोषणा की. क्रिकेटर से नेता बने गंभीर ने एक बयान में बताया कि इस पहल के तहत दिल्ली की यौनकर्मियों की 25 नाबालिग बेटियों की देख-रेख की जाएगी और इसकी शुरुआत शुक्रवार को की जाएगी.Also Read - क्या वनडे कप्तानी छिनने के चलते Virat Kohli ने छोड़ी टेस्ट की कमान!, Gautam Gambhir ने बताई पूरी बात

गौतम गंभीर ने कहा कि ‘‘समाज में हर व्यक्ति को एक अच्छा जीवन जीने का अधिकार है और मैं सुनिश्चित करना चाहता हूं कि इन बच्चियों को और अवसर मिलें, ताकि वे अपने सपने साकार कर सकें. मैं उनकी जीविका, शिक्षा और स्वास्थ्य का ध्यान रखूंगा.’’ उन्होंने बताया कि इस समय 10 लड़कियों का चयन किया गया है, जो इस सत्र में विभिन्न सरकारी स्कूलों में पढ़ रही हैं. Also Read - IND vs SA- कप्तानी किसी का जन्मसिद्ध अधिकार नहीं, अब रन बनाने की ओर देखें Virat Kohli: Gautam Gambhir

गंभीर ने कहा कि आगामी सत्र में इस कार्यक्रम में और बच्चियों को शामिल किया जाएगा और कम से कम से 25 बच्चियों की मदद करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. बता दें कि लॉकडाउन के कारण सेक्स वर्कर्स के लिए मुश्किल खड़ी हो गई है. कोरोना के चलते लोगों ने उनके पास आना छोड़ दिया है. इससे सेक्स वर्कर्स की आर्थिक स्थिति बुरी तरह से बिगड़ी हुई है. Also Read - IND vs SA- Virat Kohli का व्यवहार गलत, इससे आप युवाओं के रोल मॉडल नहीं बन सकते: Gautam Gambhir