कोलकाता: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने आज कोलकाता में पार्टी की एक लाइव प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, मैं निश्चित रूप से कहता हूं कि आने चुनाव में बंगाल में हम 200 से ज्यादा सीटों के साथ भाजपा की सरकार बनाने जा रहे हैं. हमारा लक्ष्य स्पष्ट है कि बंगाल का विकास हो, देश की सीमाएं सुरक्षित हों. पश्चिम बंगाल के दौरे पर पहुंचे बीजेपी के सीनियर नेता ने कहा, आपने कांग्रेस को भी मौका दिया, कम्युनिस्टों को भी मौके बार-बार दिए, ममता को भी 2 बार मौका दिया. एक मौका मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी को दे दीजिए, हम 5 साल में सोनार बांग्ला बनाने का आपको वादा करते हैं. Also Read - Hyderabad Election Result 2020: हैदराबाद नगर निगम चुनाव में बजा बीजेपी का डंका, टीआरएस को फिर मिली सत्ता

शाह ने कहा, ”पश्चिम बंगाल देश में तब आगे होता है जब राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्या की बात होती है. पिछले एक साल में, भाजपा के 100 कार्यकर्ता मारे गए हैं, लेकिन क्या कार्रवाई की गई है? ” Also Read - GHMC Eelection Results 2020 Update: पलट गए रुझान, सबसे बड़ी पार्टी बनती दिख रही TRS, तीसरे नंबर पर भाजपा!

शाह ने कहा, COVID19 और बाढ़ राहत कार्य के दौरान भी तृणमूल भ्रष्टाचार से दूर नहीं रही … उन्होंने राज्य में तीन कानून बनाए हैं – एक भतीजे के लिए (एक ममता बनर्जी के लिए), एक उनके वोट बैंक के लिए, और एक उनके लिए आम बंगाली. Also Read - Hyderabad Nikay Chunav 2020: रुझानों में भाजपा को स्पष्ट बहुमत, ओवैसी और टीआरएस धराशायी

बीजेपी नेता ने कहा, 2010 में बड़े चाव के साथ 11 अप्रैल को मां, माटी और मानुष के नारे के साथ बंगाल में परिवर्तन हुआ था. बंगाल की जनता के मन मे ढेर सारी अपेक्षायें और आशाएं थी.

‘मां माटी और मानुष’ का नारा तुष्टीकरण, तानाशाही और टोलबाजी में परिवर्तित हो गया है. जो अपेक्षाएं रखी गई थी, तृणमूल सरकार और राज्य की मुख्यमंत्री उन अपेक्षाओं को पूर्ण करने में खरी नहीं उतरी है.

मैं निश्चित रूप से कहता हूं कि आने चुनाव में बंगाल में हम 200 से ज्यादा सीटों के साथ भाजपा की सरकार बनाने जा रहे हैं. हमारा लक्ष्य स्पष्ट है कि बंगाल का विकास हो, देश की सीमाएं सुरक्षित हों, बंगाल के अंदर घुसपैठ रुके.TMC और दीदी का एकमात्र लक्ष्य है कि अगले टर्म में भतीजे को मुख्यमंत्री बना देना है. अब बंगाल की जनता को तय करना है कि परिवारवाद चाहिए या विकासवाद चाहिए.