कोच्चि: सोना तस्करी के सनसनीखेज मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शुक्रवार को बताया कि उसने तिरूवनंतपुरम में स्वप्ना सुरेश के दो बैंक लॉकर से एक करोड़ रुपये से अधिक की राशि और करीब एक किलोग्राम सोना जब्त किया.Also Read - PM Modi’s security Breach: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा चूक पर सुप्रीम कोर्ट में आज होगी सुनवाई

एनआईए की विशेष अदालत के समक्ष पेश रिमांड रिपोर्ट में जांच एजेंसी ने कहा कि हिरासत के दौरान सुरेश ने बताया कि उसने अपराध की कमाई बैंक लॉकरों में रखी है और विभिन्न बैंकों में इनका निवेश जमा के तौर पर किया है. Also Read - Gold Chori Ka Video: शेविंग ट्रिमर में छुपाया था लाखों का सोना, चालाकी देख हिल जाएंगे आप- देखें वीडियो

एनआईए ने बताया कि 23 जुलाई को सुरेश के लॉकर में रखे 36.5 लाख रुपये और एक अन्य बैंक में रखे 64 लाख रुपये तथा 982.5 ग्राम सोने के आभूषण बरामद किए थे. सुरेश और संदीप नायर की एनआईए की आज हिरासत खत्म होने के बाद उन्हें विशेष अदालत में पेश किया गया. Also Read - Ludhiana Court Blast: MHA में आतंरिक सुरक्षा पर हाईलेविल मीटिंग, केंद्रीय गृह सचिव ने IB, NIA,CRPF के प्रमुखों के साथ चर्चा की

एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि अगर दोनों आरोपियों को जमानत पर रिहा किया जाता है तो वे फरार हो जाएंगे और मामले में साक्ष्यों से छेड़छाड़ करेंगे. इसरने कहा कि मामले में आगे की जांच के लिए उन्हें और हिरासत में रखे जाने की जरूरत है.

एनआईए की याचिका पर विचार करते हुए अदालत ने आरोपी को 21 अगस्त तक न्यायिक रिमांड पर भेज दिया. इससे पहले अदालत ने एक अन्य आरोपी सरित को 21 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

इस बीच मामले की जांच कर रहे उत्पाद शुल्क (निषेध) आयुक्तालय ने भी सोना तस्करी मामले में सुरेश और नायर को शुक्रवार को औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया.