नई दिल्लीः पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस(Coronavirus) के संकट से जूझ रही है. विश्व में हर तरफ सिर्फ कोरोना की ही चर्चा है. भारत में कोरोना वायरस के लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं. भारत में अब तक नौ हजार से अधिक संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं जबकि तीन सौ से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.Also Read - Covid19 का टीका लगवाओ, टीवी, वॉशिंग मशीन और रेफ्रिजरेटर जैसे उपहार ले जाओ, पढ़ें कहां मिल रहा यह ऑफर

इस संकट की घड़ी में तमाम वर्ग के लोग मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रहे हैं. फिर वह बॉलीवुड का कोई स्टार हो या फिर कोई बिजनेस मैन हो या फिर कोई नेता ही क्यूं न हो. सभी लोग अपने अपने स्तर से इस संकट की घड़ी में देश की सेवा में लगे हुए हैं. गूगल प्रमुख सुंदर पिचई एक बार फिर से कोविड 19 की लड़ाई में मदद के लिए आगे आए हैं. Also Read - Omicron in India: उत्तर प्रदेश सरकार ने कसी कमर, अब बस अड्डे और रेलवे स्टेशनों पर होगा RT-PCR टेस्ट

कोरोना से बचने के लिए सरकार ने 21 दिन का लॉकडाउन लगाया है जिससे छोटे कामगारों और दिहाड़ी मजदूरों की जीविका पर बहुत बड़ी मार पड़ी है. सुंदर पिचई ने इस बार दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए दान दिया है. सूंदर पिचई ने कोरोना वायरस महामारी का मुकाबला करने के लिए ‘गिव इंडिया’ को पांच करोड़ रुपये दान किए हैं. गिव इंडिया ने ट्वीट किया, ‘‘संकटग्रस्त दिहाड़ी मजदूरों के परिवारों तक अत्यंत जरूरी नकद सहायता पहुंचाने के लिए गूगल की तरफ से पांच करोड़ रुपये का अनुदान देने के लिए धन्यवाद सुंदर पिचई’’ Also Read - SA vs IND: कोरोना के तीसरे वैरिएंट के बीच भारत का साउथ अफ्रीका दौरा, कप्तान ने जताया 'बायो-बबल' कदमों पर भरोसा

इससे पहले गूगल ने कोविड-19 महामारी से निपटने के प्रयासों के तहत 80 करोड़ डॉलर से अधिक की सहायता देने की घोषणा की थी. इसमें एनजीओ और बैंकों के लिए 20 करोड़ डॉलर का निवेश कोष शामिल है, जिससे छोटे कारोबारियों की पूंजी जुटाने में मदद की जाएगी.