नई दिल्ली: कोरोना वायरस के प्रकोप की रोकथाम के मकसद से सरकार द्वारा घोषित देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान देश के विभिन्न राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना यानी पीएमएफबीवाई के तहत 1,000 करोड़ रुपये के दावों का भुगतान किया गया. यह जानकारी केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की ओर से रविवार को दी गई. Also Read - Weather Update: मई में टूटा 10 साल का रिकॉर्ड, पारा 50 के पार, घर से ना निकलने की सलाह

मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, छत्तीसगढ़ में 462.24 करोड़ रुपये, हरियाणा में 26.08 करोड़ रुपये, जम्मू-कश्मीर में 14.71 करोड़ रुपये, राजस्थान में 327.67 करोड़ रुपये, कर्नाटक में 75.76 करोड़ रुपये, मध्यप्रदेश में 17.90 करोड़ रुपये, महाराष्ट्र में 21.06 करोड़ रुपये, तमिलनाडु में 21.17 करोड़ रुपये, उत्तर प्रदेश में 41.08 करोड़ रुपये और तेलंगाना में 0.31 करोड़ रुपये समेत देशभर में कुल 1,008 करोड़ रुपये का भुगतान लॉकडाउन के दौरान पीएमएफबीवाई के तहत किए गए दावों के तौर पर किया गया है. Also Read - लॉकडाउन में अक्षय कुमार के लिए कुछ नहीं बदला, सुबह-सुबह ही इस काम पर लग जाते हैं

मंत्रालय के अनुसार, प्रधानमंत्री किसान निधि (पीएम-किसान) योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी किसान को तीन 2000 रुपये रुपये की राशि तीन समान किस्तों में सालाना दी जाने वाली 6,000 रुपये अप्रैल महीने में दी जाने वाली पहली किस्त के रूप में 4.91 करोड़ किसान परिवारों को 9826 करोड़ रुपये जारी हस्तांतरित किए जा चुके हैं. Also Read - 'क्राइम पेट्रोल' फेम इस एक्ट्रेस ने की आत्महत्या, सोशल मीडिया पर लिखी रूलाने वाली बात