नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) व नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर हुई विपक्षी दलों की बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार आर्थिक मुद्दे पर विफल हो चुकी है और अब अन्य तरीकों से देश का ध्यान भटकाने का प्रयत्न कर रही है. Also Read - Video: Congress Leader Rahul Gandhi ने समुद्र में लगाई डुबकी, तैरते हुए भी आए नजर

राहुल ने कहा, “प्रधानमंत्री मोदी को चाहिए कि वह युवाओं को बताएं कि क्यों भारत की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई, क्यों बेरोजगारी दर बढ़ रही है? उनके पास हिम्मत नहीं है कि वह विद्यार्थियों के सामने आएं.” उन्होंने कहा, “मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह किसी भी विश्वविद्यालय में जाएं और बिना पुलिस के वहां खड़े होकर लोगों को बताएं कि वह देश के लिए क्या करने जा रहे हैं.” Also Read - राहुल गांधी सुबह साढ़े 4 बजे मछली पकड़ने समुद्र में गए, कहा- मछुआरों के काम का करते हैं सम्मान, इनके लिए...

उन्होंने कहा कि सरकार युवाओं की आवाज को दबाने का प्रयत्न कर रही है, छात्रों की मांग जायज है लेकिन सरकार उन्हें सुनना नहीं चाहती है. सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर रणनीति बनाने के लिए इससे पहले विपक्षी दलों की एक बैठक नई दिल्ली में हुई. इस बैठक में 20 राजनीतिक पार्टियों ने भाग लिया लेकिन दो बड़े सहयोगी द्रमुक और शिवसेना ने इससे दूरी बनाए रखी. Also Read - Karnataka के Chikkaballapur में ब्‍लास्‍ट से 6 लोगों की मौत, PM Modi ने जताया दुख

(इनपुट आईएएनएस)