नई दिल्ली: आप भी हवाई जहाज से यात्रा के दौरान एयरपोर्ट पर चाय-कॉफी और पानी की बोतल इसलिए नहीं खरीदते हैं क्योंकि यहां मिलने वाली चाय बहुत महंगी होती है तो जल्द ही इससे राहत मिलने वाली है. सरकार की मानें तो अब एयरपोर्ट पर यात्रियों को चाय-कॉफी और पानी की बोतल एमआरपी पर मिलेगी. यानी आपको उतनी ही कीमत चुकानी होगी जितना बोतल पर लिखा है. भारतीय हवाईअड्डा प्राधिकरण (ए ए आई) ने शनिवार को कहा कि देश में सरकार संचालित हवाईअड्डों पर कुछ काउंटरों पर चाय और जलपान संबंधी अन्य चीजें अब अधिकतम खुदरा मूल्य पर उपलब्ध होंगी.Also Read - नए संसद भवन के निर्माण में लगे कामगारों को पीएम मोदी का तोहफा, 'योगदान को याद रखने के लिए बनाया जाएएगा डिजिटल म्यूजियम'

Also Read - AAI Recruitment 2021: AAI में इन विभिन्न पदों पर आवेदन करने की कल है अंतिम डेट, जल्द करें अप्लाई, 1.1 लाख मिलेगी सैलरी

सिर्फ मोदी नहीं इस वजह से चुनाव हार रही है कांग्रेस? घर-घर जाकर दूर करेगी अपनी समस्या Also Read - AAI Recruitment 2021: AAI में इन विभिन्न पदों पर बिना परीक्षा पा सकते हैं नौकरी, बस करना होगा ये काम, लाखों में मिलेगी सैलरी

ए ए आई के एक अधिकारी ने बताया कि ये काउंटर यात्रियों के लिए कुछ पेय पदार्थ और बोतलबंद पानी पहले ही किफायती दरों पर बेचने की शुरुआत कर चुके हैं. हवाईअड्डा टर्मिनलों पर खाद्य और पेय पदार्थों की अत्यधिक कीमत वसूले जाने की यात्रियों की ओर से लगातार मिल रही शिकायतों के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है. सांसद भी इस मुद्दे को बार-बार संसद में उठाते रहे हैं. पिछले साल मार्च में वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने चेन्नई हवाईअड्डे पर चाय की अत्यधिक कीमत को लेकर टि्वटर पर अपना गुस्सा जाहिर किया था और उन्होंने अधिक दाम पर चाय लेने से मना कर दिया था.

बीजेपी के बागी शत्रुघ्न सिन्हा और यशवंत सिन्हा को केजरीवाल ने दिया बड़ा ऑफर

चिदंबरम ने ट्वीट किया था कि चेन्नई एयरपोर्ट पर कॉफी-डे में मैंने चाय मांगी, उसने गर्म पानी और टी बैग दिया. कीमत थी 135 रुपए, भयावह, मैंने लेने से इनकार कर दिया, क्या मैं सही था या गलत. चिदंबरम ने फिर एक ट्वीट किया और लिखा, कॉफी यहां पर 180 रुपए में बिक रही है, मैंने पूछा कौन खरीदता है इसे? जवाब मिला कई लोग क्या मैं आउटडेटेड हो गया हूं.

‘भारत बंद’ पर भिड़ीं कांग्रेस और टीएमसी, कांग्रेस ने ममता बनर्जी सरकार पर लगाया विरोधाभासी रवैये का आरोप

ए ए आई के अधिकारी ने बताया कि देश में 90 से अधिक हवाईअड्डों पर किफायती दरों पर खाद्य एवं पेय पदार्थ बेचने वाले काउंटर उपलब्ध होंगे. नई दिल्ली, मुम्बई और बेंगलुरु में यह सुविधा उपलब्ध नहीं होगी क्योंकि इन हवाईअड्डों का संचालन निजी कंपनियों के हाथों में है. उन्होंने कहा, ‘आजकल हवाई यात्रा सिर्फ उच्च वर्ग के लिए ही सीमित नहीं है. समाज के सभी तबकों से लोग हवाई सफर कर रहे हैं, खासकर उड़ान योजना लागू होने के बाद, लेकिन हवाईअड्डे पर जब उन्हें चाय और जलपान संबंधी अन्य चीजें खरीदनी होती हैं तो उनके पास सीमित विकल्प होते हैं. काउंटर उनके लिए राहत का काम करेंगे.