हैदराबाद: केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाकों में स्थिति नियंत्रित कर लिया है और यह सच्चाई के तह तक जाएगी और दंगों में अगर कोई साजिश की गयी है तो उसका पता लगाएगी. रेड्डी ने कहा कि मुद्दों को संवाद के माध्यम से हल किया जा सकता है, लेकिन इस मामले में राजनीतिक दलों के एक वर्ग द्वारा कथित रूप से फैलाई गई अफवाहें और सोशल मीडिया में आयी टिप्पणियों ने आग में घी डालने का काम किया है. Also Read - IB कर्मी अंकित शर्मा हत्याकांड: SIT ने 650 पेज की चार्जशीट दाखिल की, जेल में हैं सभी आरोपी

दिल्ली दंगों में कम से कम 42 लोगों की मौत हो गयी जबकि 200 से अधिक लोग घायल हो गये. रेड्डी ने कहा कि पिछले हफ्ते में दिल्ली में हमने कुछ अशांति देखी. दुर्भाग्य से कई निर्दोष लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी और संपत्ति को भी बड़े पैमाने पर क्षति हुई. दिल्ली पुलिस का एक बहादुर कांस्टेबल और गुप्तचर ब्यूरो के अधिकारी को इस दंगे का शिकार होना पड़ा . हम लोग स्थिति को नियंत्रित कर चुके हैं. Also Read - दिल्ली दंगों के आरोप में जेल में बंद इशरत जहां को निकाह के लिए मिली जमानत

इंडियन स्कूल आफ बिजनेस में आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए रेड्डी ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार साजिश का पर्दाफाश करने के लिए सच्चाई की तह तक जाने को तैयार हैं. अफवाहों के लिए सावधान करते हुए केंद्रीय मंत्री ने सोशल मीडिया के इस्तेमाल में सावधानी बरतने की सलाह भी दी. Also Read - Delhi Violence: PFI का दिल्ली प्रमुख परवेज व सचिव इलियास गिरफ्तार, कोर्ट ने 7 दिन की हिरासत में भेजा