एआईएडीएमके के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर शनिवार को ट्वीट किया गया कि गवर्नर विद्या सागर राव ने इमरजेंसी ऑर्डिनेंस को मंजूरी दे दी है। लेकिन इसके कुछ देर बाद ही इस ट्वीट को डिलीट कर दिया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जल्लीकट्टू खेल रविवार को तमिलनाडु के अलंगानाल्लुर में होगा।

केंद्र सरकार के अध्यादेश को मंजूरी दिए जाने के बाद विद्यासागर राव दोपहर बाद चेन्नई पहुंचे, जहां उन्होंने अध्यादेश को मंजूरी दे दी। राव महाराष्ट्र के गवर्नर हैं और उनके पास तमिलनाडु की भी अतिरिक्त जिम्मेदारी है।

सीएम पन्नीरसेल्वम सुबह 10 बजे शुरू इसका इनॉगरेशन करेंगे। इस ऑर्डिनेंस पर केंद्र की मंजूरी के बाद अब राष्ट्रपति की मंजूरी का इंतजार है। खेल पर बैन के विरोध में चेन्नई के मरीना बीच पर लगभग 2 लाख से ज्यादा लोग अभी भी जमा है। इस बीच, रजनीकांत की बेटी ऐश्वर्या ने भी खेल का सपोर्ट किया है। यह भी पढ़ें: तमिल लोगों की सांस्कृतिक आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए करेंगे हर प्रयास: प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी

इससे पहले केंद्र द्वारा जल्लीकट्टू अध्यादेश को मंजूरी दिए जाने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि तमिलनाडु की जनता की सांस्कृतिक आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘तमिलनाडु की समृद्ध संस्कृति पर हमें गर्व है। तमिल लोगों की सांस्कृतिक आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।’’ मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार तमिलनाडु की प्रगति के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है और राज्य को नई उंचाइयों तक पहुंचाने के लिए काम करती रहेगी।