हैदराबाद: तेलंगाना मंत्रिमंडल ने गुरुवार को राज्य विधानसभा भंग करने की सिफारिश की. इसके बाद राज्यपाल ने विधानसभा भंग कर दी है. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव फैसले से अवगत कराने के लिए राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन से मुलाकात कर विधानसभा भंग करने के लिए पत्र सौंपा. पिछले कुछ समय से ऐसी अटकलें चल रही थी कि सीएम राव समय पूर्व चुनाव की मांग कर सकते हैं.

तेलंगाना में जल्द हो सकते हैं विधानसभा चुनाव, आज सीएम चंद्रशेखर राव कर सकते हैं विधानसभा भंग करने का ऐलान

राजभवन की जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन ने विधानसभा भंग करने की तेलंगाना मंत्रिमंडल की सिफारिश स्वीकार कर ली है. अब जल्दी चुनाव कराने का फैसला निर्वाचन आयोग पर है. सामान्य परिस्थितियों में तेलंगाना विधानसभा चुनाव लोकसभा चुनाव के समय होगा.

‘6 लकी नंबर’ के साथ आज विधानसभा भंग कर सकते हैं तेलंगाना सीएम

सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के सूत्रों ने बुधवार को दावा किया था कि सरकार ने विधानसभा भंग करने को लेकर मन बना लिया है जिसका कार्यकाल अगले साल समाप्त हो रहा है. करीब 15 दिनों से विधानसभा भंग करने और जल्दी चुनाव कराए जाने की अटकलें लगाई जा रही हैं. तेलंगाना विधानसभा का चुनाव अगले साल लोकसभा चुनाव के साथ निर्धारित है, लेकिन सत्तारूढ़ टीआरएस दोनों चुनाव अलग-अलग कराए जाने में राजनीतिक लाभ देख रही है.

पार्टी को मई 2014 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में राज्य में जीत मिली थी. उसने 119 सदस्यीय विधानसभा में 63 सीटों पर जीत हासिल की थी.