कठुआ: जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोमवार को पुलिस को उनके प्रशासन द्वारा पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया और उन्हें ड्यूटी करते समय ‘बड़े नेताओं’ से भयभीत न होने के लिए कहा. उन्होंने जम्मू-कश्मीर पुलिस के 1,033 कांस्टेबलों की पासिंग आउट परेड को संबोधित करते हुए कहा , ‘‘आप भारत के संविधान का प्रतिनिधित्व करते हैं. किसी से भी भयभीत मत होना.’’

उन्होंने कहा, ‘‘ जब आप ड्यूटी पर हों, तब यह मत सोचिए कि आप एक सिपाही हैं या निरीक्षक हैं. आपको जो सही लगता है, वो करें. यदि कोई बड़ा नेता आपको धमकाता है, तो हम आपका समर्थन करेंगे. आपको दृढ़ संकल्प और न्याय के साथ खड़ा होना चाहिए.’

जम्मू कश्मीर पुलिस के बलिदानों की प्रशंसा की कि वह देश के सबसे अच्छे पुलिस बलों में एक है. जून में दक्षिण कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा इंसपेक्टर अरशाद खान की हत्या का जिक्र करते हुए राज्यपाल ने कहा कि जम्मू कश्मीर के पुलिसकर्मियों के इस तरह के बलिदान के बाद देशवासी उन्हें सम्मान की नजर से देखने लगे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह समेत देश के शीर्ष नेतृत्व की नजर में भी उनका सम्मान है.’’

(इनपुट भाषा)