नई दिल्ली: सरकार ने लुटियंस जोन में स्थित जो बंगला भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख और राज्यसभा सदस्य अनिल बलूनी को आवंटित किया है, उसमें फिलहाल कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी रहती हैं. केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. Also Read - कांग्रेस को फिर लगा बड़ा झटका, पूर्व मंत्री सहित दो बड़े नेताओं ने छोड़ी पार्टी, भाजपा में हुए शामिल

मंत्रालय ने गत एक जुलाई को प्रियंका गांधी के बंगले का आवंटन रद्द करते हुए कहा था कि वह एसपीजी सुरक्षा वापस लिए जाने के बाद आवासीय सुविधा पाने की हकदार नहीं हैं. सरकार ने कांग्रेस की महासचिव को एक अगस्त तक मौजूदा आवास ‘35 लोधी एस्टेट’ खाली करने को कहा है. Also Read - मध्य प्रदेश में अब कांग्रेस कर रही 'शुद्धिकरण', इन इलाकों में घर-घर बांटेगी गंगाजल

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के एक अधिकारी ने रविवार को कहा, ”अनिल बलूनी के अनुरोध पर उन्हें प्रियंका गांधी का बंगला आवंटित किया गया है. कांग्रेस नेता के बंगला खाली करने पर उन्हें (बलूनी) इसका अधिकार मिल जाएगा. Also Read - रक्षा मंत्रालय ने चीनी 'घुसपैठ' से जुड़ी रिपोर्ट वेबसाइट से क्यों हटाई, सरकार बताए वास्तविक स्थिति: कांग्रेस

सूत्रों ने बताया कि बलूनी ने स्वास्थ्य आधार पर आवास बदलने का अनुरोध किया था. कुछ समय पहले उनका कैंसर का इलाज हुआ था. हालांकि, वह ठीक हो गए हैं, लेकिन उन्हें कुछ सावधानियां बरतने की सलाह दी गई है. उनके वर्तमान निवास को उनके लिए पूरी तरह से उपयुक्त नहीं माना गया है.

सरकार ने पिछले साल नवंबर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली थी तथा उन्हें जेड-प्लस श्रेणी सुरक्षा दी थी.

मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया था कि यह बंगला प्रियंका गांधी को 21 फरवरी, 1997 को आवंटित किया गया था] क्योंकि उस वक्त उन्हें एसपीजी सुरक्षा मिली हुई थी. अधिकारी के मुताबिक जेड-प्लस श्रेणी की सुरक्षा में इस तरह की सुविधा का प्रावधान नहीं होता और ऐसे में उन्हें यह बंगला खाली करना पड़ेगा.