नई दिल्ली: सरकार ने मंगलवार को घोषणा की कि वह नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा पहली बार पोर्ट ब्लेयर में तिरंगा फहराने की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर 75 रुपये का स्मारक सिक्का जारी करेगी. वित्त मंत्रालय ने इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की है. Also Read - सुभाष चंद्र बोस की अस्थियों से जुड़ी 5 बातें, जिन्हें नहीं जानते होंगे आप

Also Read - दावा: विमान दुर्घटना में नहीं हुई थी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की मौत, डीएनए टेस्ट की मांग

अधिसूचना में कहा गया है, “पोर्ट ब्लेयर में नेताजी सुभाषचंद्र बोस द्वारा पहली बार ‘तिरंगा फहराने की 75वीं वर्षगांठ’ के मौके पर जारी करने के लिये केंद्र सरकार के अधिकार के तहत 75 रुपये मूल्य का सिक्का सरकारी ढलाई कारखाने में बनाया जाएगा.” 35 ग्राम के इस सिक्के में 50 प्रतिशत चांदी, 40 प्रतिशत तांबा तथा निकल और जस्ता पांच-पांच प्रतिशत होंगे. Also Read - नेताजी पर आधारित फिल्‍म 'गुमनामी' को लेकर विवाद, परिवार ने उठाया सवाल

नरेंद्र सिंह तोमर संभालेंगे संसदीय कार्य मंत्रालय, सदानंद गौड़ा देखेंगे रसायन और उर्वरक मंत्रालय

इस सिक्के में ‘नेताजी सुभाषचंद्र बोस’ की तस्वीर, सेलुलर जेल की पृष्ठभूमि में ध्वज को सलाम करते हुए दिखेगी. चित्र के नीचे “वर्षगांठ’’ के साथ 75 का अंक छपा होगा. देवनागरी लिपि और अंग्रेजी दोनों भाषा में ‘पहला तिरंगा फहराने का दिन’ सिक्के पर छपा होगा.

राफेल डील: भाजपा ने कांग्रेस पर लगाया झूठ बोलने का आरोप, कहा राहुल की भाषा पाक जैसी

उल्लेखनीय है कि 30 दिसंबर, 1943 को, सुभाष चंद्र बोस ने पहली बार सेलुलर जेल, पोर्ट ब्लेयर में तिरेगा फहराया था. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले महीने 21 अक्टूबर को लाल किले पर राष्ट्रीय घ्वज फहराया था और सुभाष चंद्र बोस द्वारा बनाई गई आजाद हिंद फौज की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर एक पट्टिका का अनावरण किया था.