नई दिल्ली: संशोधित नागरिकता कानून के विरोध से इत्तेफाक नहीं रखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को कहा कि मोदी
सरकार सुनिश्चित करेगी कि पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के गैर मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता हासिल हो और वे देश में सम्मान के साथ जी सकें.

शाह ने नए कानून का विरोध करने वाले लोगों को चुनौती देते हुए कहा कि वे जितना चाहें कानून का विरोध कर सकते हैं. उन्होंने
यहां एक कार्यक्रम में कहा, कुछ भी हो मोदी सरकार सुनिश्चित करेगी कि इन शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता हासिल हो और वे
सम्मान के साथ भारतीय नागरिक बनकर जिएं. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को झारखंड में एक चुनावी रैली में छात्रों से
लोकतांत्रिक तरीकों से अपने विषय उठाने की अपील की.

लोकतांत्रिक तरीके से चर्चा के लिए मुद्दे उठाएं छात्र: मोदी
कांग्रेस पर संशोधित नागरिकता कानून को लेकर झूठ फैलाने तथा मुसलमानों के बीच डर का माहौल बनाने का आरोप लगाते हुए
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भोगनाडीह में छात्रों से लोकतांत्रिक तरीकों से अपने विषय उठाने की अपील की.

शहरी नक्सली युवाओं को भड़काने की कोशिश कर रहे हैं
मोदी ने यहां चुनावी रैली में संशोधित कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे कॉलेज और विश्वविद्यालय के छात्रों से अपील की कि वह
लोकतांत्रिक तरीके से सरकार के साथ बातचीत के लिए मुद्दों को उठाएं. उन्होंने आरोप लगाया कि ‘शहरी नक्सली’ लोग देश में
समस्या पैदा करने के लिए युवाओं को भड़काने की कोशिश कर रहे हैं.

कांग्रेस नागरिकता कानून पर झूठ बोल रही है
मोदी ने कहा, कांग्रेस नागरिकता कानून पर झूठ बोल रही है, मुसलमानों के बीच डर का माहौल बना रही है. मैं आश्वासन देता हूं
कि देश का कोई भी नागरिक इस कानून से प्रभावित नहीं होगा.