GHMC Local Body Election: ग्रेटर हैदराबाद म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (GHMC) के चुनाव में जीत हासिल करने और असदुद्दीन ओवैसी के किले को ध्वस्त करने के लिए भाजपा ने कमर कस ली है और जी जीन से तैयारियों में जुट चुकी है. म्यूनिसपल चुनाव 1 दिसंबर से होने वाले हैं ऐसे में सत्ताधारी पार्टी ने अपनी पूरी ताकत लगा दी है. यह चुनाव AIMIM के गढ़ में हो रहा है. ऐसे में असदुद्दीन की पार्टी का पत्ता साफ हो सके इस कारण इस चुनाव में प्रचार करने के लिए भाजपा के कई दिग्गज नेता यहां पहुंचने वाले हैं. Also Read - क्या Uttar Pradesh में भी शराब पर लगेगी पाबंदी? जानें CM योगी ने क्या कहा...

चुनाव प्रचार के लिए यहां भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद यहां चुनाव प्रचार करने आएंगे और सुनिश्चित करेंगे कि ओवैसी का गढ़ ध्वस्त हो सके. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा शुक्रवार के दिन मलकाजगिरी संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले म्यूनिसिपल क्षेत्र में रोड शो करेंगे. वही होटल मैरिअट में वे बुद्धिजीवियों को भी संबोधित करने वाले हैं. Also Read - सुभाषचंद्र बोस के धर्मनिरपेक्ष विचारों के खिलाफ थे RSS के लोग, BJP को जयंती मनाने का अधिकार नहीं: कांग्रेस

यूपी के सीएम योगी आदित्यानाथ रविवार के दिन राजेंद्र नगर और छेवेल्ला संसदीय क्षेत्र के तहत आने वाले म्यूनिसिपल क्षेत्र में एक रैली करेंगे और लोगों को संबोधित भी करेंगे. म्यूनिसिपल चुनाव में सबसे बड़ी रैली गृहमंत्री अमित शाह करने वाले हैं. वे इस चुनाव प्रचार के अंतिम रूप देने का काम करेंगे. प्रचार के आखिरी दिन यानी रविवार को वे सिकंदराबाद में रैली को संबोधित करेंगे. हालांकि अभी तक उनके कार्यक्रम को फिक्स नहीं किया जा सका है. ऐसे में वे जनसभा को संबोधित करेंगे या 2 से 3 रोड शो करने वाले हैं यह साफ नहीं है. Also Read - अमित शाह ने असम में कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- पहले सेमीफाइनल जीता, अब फाइनल जीतेंगे

गुरुवार यानी महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस हैदराबाद में ही थे, यहां उन्होंने पार्टी के घोषणा को पत्र को जारी किया और हैदराबाद की जनता से कई वादे भी किए. इन वादों में गरीब परिवार के बच्चों को टैब देने की घोषणा की, जिसमें वाइफाई की सुविधा मुफ्त में होगी. वहीं झुग्गी झोपड़ियों में रहने वालों के प्रॉपर्टी खरीदने पर टैक्स में छूट, महिलाओं को यात्रा करने के लिए छूट, बिजली-पानी में छूट जैसी आधारभूत वादे किए गए.