नई दिल्‍ली: बीजेपी अध्‍यक्ष व केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) अमित शाह (Amit Shah) इस वीडियो में मकर संक्रति के मौके पर पतंगबाजी का लुत्‍फ उठाते हुए नजर आ रहे हैं. गुजरात की गांधी नगर सीट से सांसद अमित शाह ने मंगलवार को अहमदाबाद में आयोजित उत्‍तरायण कार्यक्रम में भाग लिया. मकर संक्रांति पर अपने गृह प्रदेश पहुंचे शाह इस दौरान उत्‍सव के माहौल में काफी रंगे नजर आए.

शाह छत पर खड़े होकर पतंगबाजी का आनंद ले रहे हैं और लोगों को हाथ उठाकर अभिवादन भी करते हुए दिखाई दे रहे हैं. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह के साथ गुजरात बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष जीतू वाघानी, कोषाध्‍यक्ष सुरेन्द्रभाई पटेल (सुरेन्द्र काका) भी इस अवसर पर उपस्थित थे.

बता दें कि अमित शाह (Amit Shah) पर पार्टी की सबसे बड़ी जिम्‍मेदारी के साथ ही देश के अहम केंद्रीय गृह मंत्रालय की भी जिम्‍मेदारी है. वह राजनीतिक मोर्चे पर भी बेहद मुखर होकर अपने विरोधियों के हमलों का करारा जवाब देते हैं. गंभीर शख्‍त और बेहद अनुशासित मिजाज वाले शाह सार्वजनिक मनोरंजक गतिविधियों में शायद नजर आते हों. दिल्‍ली विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भी उनकी व्‍यस्‍तता इन दिनों बढ़ी हुई है, लेकिन वक्‍त निकाल कर वह इस पर्व पर अपने घर पहुंचे.

सीएए के समर्थन और विरोध में छपे संदेश वाली हजारों पतंग राज्य में वितरित की गई थी. नागरिक संस्थाओं के लोगों ने छात्रों और आम लोगों को “भारत सीएए के विरोध में”, ”एनपीआर नहीं, एनआरसी नहीं”, ”संविधान बचाओ, भारत बचाओ”, ”हिंदू मुस्लिम भाई भाई”, ”एनआरसी सीएए बाय बाय” के नारों वाली पतंग बांटी.

राजकोट के एक भाजपा नेता ने कहा कि उन्होंने शहर में ”सीएए के समर्थन में” लिखी हुई पचास हजार पतंग बांटी. मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने अहमदाबाद के खोखरा में स्थित एक आवासीय परिसर में मकान की छत पर सीएए के समर्थन का संदेश लिखी पतंग उड़ाई.

उन्होंने कहा, “जीवन को भी पतंग की भांति उड़ना चाहिए और नई ऊंचाई हासिल करनी चाहिए. गुजरात एक प्रगतिशील राज्य है और हम पतंग की तरह आकाश में प्रगति की ऊँची उड़ान हासिल करते रहेंगे.”

भाजपा के समर्थक और स्थानीय लोगों ने हाथ में तख्तियां लेकर आने जाने वालों से सीएए के समर्थन में एक फोन नंबर पर मिस कॉल देने का आग्रह किया.

भाजपा कार्यकर्ता सीएए के समर्थन वाली टी शर्ट पहने दिखाई दिए और कांग्रेस नेताओं ने पतंग पर लिखे संदेश के जरिये महंगाई, बेरोजगारी, अपराध, सीएए और एनआरसी जैसे मुद्दों पर सरकार की आलोचना की.

विधानसभा में विपक्ष के नेता परेश धानाणी ने कहा, “महंगाई, आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध आज गुजरात के प्रमुख मुद्दे हैं. हमें उम्मीद है कि उत्तरायण के अवसर पर हम जो पतंग उड़ा रहे हैं वह लोगों का दर्द अपने साथ ले जाएगी और इन राक्षसों का अंत कर देगी.”

इस बीच अहमदाबाद के संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस ने गश्त लगाई. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) और राज्य रिजर्व पुलिस बल (एसआरपीएफ) की टीमों को भी अहमदाबाद में सड़कों पर तैनात किया गया था. वड़ोदरा में पुलिस ने संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च किया .