अहमदाबाद। विधानसभा चुनाव के बाद अब सभी की नजरें गुजरात निकाय चुनाव पर लग गई हैं. विधानसभा चुनाव के बाद एक बार फिर से बीजेपी और कांग्रेस गुजरात निकाय चुनाव में आमने सामने होंगी. राज्य निर्वाचन आयोग ने 23 जनवरी को निकाय चुनाव की तारीखों का ऐलान किया था. घोषणा के मुताबिक, 17 फरवरी को वोट डाले जाएंगे और 19 को वोटों की गिनती होगी. Also Read - Madhya Pradesh: 'Tandav' के खिलाफ 2 दो शहरों में FIR, बीजेपी नेता ने उद्धव ठाकरे को भेजा पत्र

Also Read - रेप के आरोपों का सामना कर रहे Dhananjay Munde के खिलाफ कार्रवाई को लेकर NCP प्रमुख शरद पवार ने कही यह बात..

गुजरात निकाय चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 3 फरवरी थी. आयोग की घोषणा के मुताबिक, 75 नगरपालिकाओं में 17 फरवरी को चुनाव कराए जाएंगे. इसके साथ ही 6 अन्य नगरपालिकाओं की 7 सीटों पर भी उपचुनाव 17 फरवरी को ही कराए जाएंगे. Also Read - Rajasthan Latest News: सचिन पायलट समर्थक MLA गजेंद्र सिंह शक्तावत का निधन, CM गहलोत ने जताया शोक

हाल के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 99 सीटें जीतकर सत्ता बरकरार रखी है. लेकिन बीजेपी को इस तरह के परिणाम की उम्मीद नहीं थी. यही कारण है कि विधानसभा चुनाव के परिणाम को देखते हुए माना जा रहा है की इस बार के निकाय चुनाव में सूबे की सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और विपक्षी पार्टी कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर रहेगी.

यह भी पढ़ें- भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हरियाणा के जींद में फूंका ‘मिशन 2019’ का बिगुल

बता दें कि गुजरात विधानसभा चुनाव में भले ही कांग्रेस महज 77 सीटों पर सिमट के रह गई. लेकिन इससे उनके उत्साह में कोई कमी नहीं दिखाई दी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के गढ़ गुजरात में कांग्रेस जीत का स्वाद चखने की कोशिश करेगी.