यरूशलम. गुजरात के सीएम विजय रूपाणी ने गुरुवार को कहा कि उनकी सरकार राज्य में यहूदियों को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा देगी और इस बारे में जल्द ही एक अधिसूचना जारी की जाएगी. रूपाणी ने यहां इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू से मुलाकात के दौरान इस बात का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि इस कदम के जरिए समुदाय की काफी समय से लंबित यह मांग पूरी की जाएगी. Also Read - गुजरात में मास्क नहीं पहनने पर 90 करोड़ रुपये का जुर्माना, सुप्रीम कोर्ट भी हैरान, कहा-ये तो हद है...

रूपाणी ने 45 मिनट तक चली अपनी बैठक के दौरान नेतनयाहू से कहा कि गुजराती यहूदियों को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा देने का सैद्धांतिक फैसला लिया गया है. इस्राइल की छह दिनों की यात्रा पर आए रूपाणी ने कहा कि इस बारे में जल्द ही राज्य सरकार एक अधिसूचना जारी करेगी. Also Read - Ahmedabad Blast: केमिकल गोदाम में विस्फोट से 12 लोगों की मौत, सीएम रूपाणी ने की मुआवजे की घोषणा

बता दें कि गुजरात में यहूदी समुदाय की आबादी 200 से भी कम है. गुजरात में यहूदी मुख्य रूप से अहमदाबाद में हैं. Also Read - CM विजय रुपाणी का कांग्रेस पर तंज, 25 करोड़ में बिक जाएगी गुजरात की कांग्रेस पार्टी