Also Read - ‘पीपुल्स एलायंस’ की बैठक में बोले फारूक अब्दुल्ला, 'हम भाजपा विरोधी हैं, देश विरोधी नहीं'

जम्मू, 27 नवंबर | जम्मू एवं कश्मीर में अंतर्राष्ट्रीय सीमा के नजदीक घुसपैठ कर आए आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच गुरुवार को मुठभेड़ के दौरान चार नागरिकों सहित 10 लोगों की मौत हो गई। यह घटना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कश्मीर दौरे से ठीक एक दिन पहले हुई है। यह जानकारी अधिकारियों ने दी। जम्मू जिले के अरनिया इलाके में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर घुसपैठ कर भारी हथियारों से सुसज्जित आतंकवादी भारतीय सीमा में घुस आए। Also Read - पाकिस्तान ने आंतकियों को दी खुली छूट, हाफिज सईद से कहा- कश्मीर में भेजो दहशतगर्द

उन्होंने कहा, “घुसपैठ कर भारत में घुसे आठ आतंकवादियों ने पहले नागरिकों के एक वाहन पर गोलीबारी की। इस घटना में वाहन का चालक तथा उसमें सवार दो लोगों की मौत हो गई। इसके बाद आतंकवादी पिंड खोटे गांव में सेना के छोड़े एक बंकर में घुस गए।” अधिकारी ने कहा, “सेना तथा सीमा सुरक्षा बल के साथ आतंकवादियों की हुई मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए। इस दौरान सेना का एक कनिष्ठ अधिकारी भी शहीद हो गया, जबकि चार अन्य जवान घायल हो गए।” Also Read - ट्विटर ने जम्मू-कश्मीर को बताया चीन का हिस्सा, भड़के लोगों ने रविशंकर प्रसाद से की कार्रवाई की मांग

पुलिस ने कहा कि पिंड खोटे गांव में गोलीबारी बंद होने के बाद जिंदा बचे आतंकवादियों ने एक बार फिर सुरक्षाबलों पर गोलीबारी की, जिसमें एक नागरिक मारा गया तथा एक जवान शहीद हो गया।  घायल चारों जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, “घुसपैठ की कोशिश में पाकिस्तान रेंजर्स ने मदद की है, जिन्होंने गुरुवार सुबह अरनिया में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की चौकी पर मोर्टार दागे, ताकि भारतीय सुरक्षा बलों का ध्यान भटकाया जा सके। इसी क्रम में आतंकवादी भारतीय सीमा में घुस पाए।”

मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने जवान के परिजनों के प्रति संवेदना जताते हुए कहा कि हमला संयोगमात्र नहीं हो सकता।  इस बीच, उमर ने जवान की शहादत पर उनके परिवार वालों के साथ संवेदना जताई। उमर ने घटना के बाद किए ट्वीट किया, “अरनिया में हुए हमले की घटना संयोगमात्र नहीं हो सकती। अरनिया में शहीद हुए सैन्य अधिकारी के परिजनों के प्रति संवेदना जाहिर करता हूं।”

गौरतलब है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ इस वक्त दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन (दक्षेस) के 18वें शिखर सम्मेलन में शिरकत करने के लिए नेपाल में मौजूद हैं।  उमर ने कहा कि जम्मू में राष्ट्रीय राजमार्ग और अन्य संवेदनशील इलाके से लगी सभी चौकियों को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को मोदी का जम्मू आने का कार्यक्रम है। वह यहां विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के मद्देनजर जनसभाओं को संबोधित करेंगे। भाजपा सूत्रों के मुताबिक, मोदी उधमपुर तथा पुंछ जिले में जनसभाओं को संबोधित करेंगे।