नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने तमिलनाडु के तुतीकोरिन में वेदांता समूह की कॉपर इकाई को बंद करने की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस गोलीबारी में नौ लोगों की मौत को ‘सरकार प्रायोजित आतंकवाद की बर्बर मिसाल’ करार दिया है.उन्होंने कहा कि अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने वाले नागरिकों की हत्या की गई है. राहुल ने ट्वीट कर कहा,‘ तमिलनाडु में स्टरलाइट विरोधी प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने नौ लोगों को मार दिया. यह सरकार प्रायोजित आतंकवाद की बर्बर मिसाल है.’ उन्होंने कहा, ‘अन्याय का विरोध करने के लिए इन नागरिगों की हत्या की गई है. इन शहीदों के परिवारों और घायलों के प्रति मेरी संवेदना और प्रार्थना है. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने कहा है कि तुतीकोरिन में पुलिस गोलीबारी में नौ लोग मारे गए हैं. Also Read - लॉकडाउन में परिवार को घर पहुंचाने के लिए शख्स ने मजबूरी में चुराई बाइक, काम होने के बाद पार्सल कर लौटाई

वहीं डीएमके के वर्किंग प्रेसिडेंट एमके स्टालिन का कहना है कि तमिलनाडु के तुतीकोरिन में वेदांता समूह की कॉपर इकाई को बंद करने की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस गोलीबारी में नौ लोगों की मौत की वजह से वह बुधवार को कर्नाटक में होने वाले एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में नहीं जाएंगे. उन्होंने कहा कि वह मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात करने जाएंगे.

क्या है मामला
तमिलनाडु के तूतीकोरन में पिछले एक महीने से वेदांता की स्टरलाइट कॉपर यूनिट को बंद करने की मांग को लेकर हो रहा प्रदर्शन मंगलवार को हिंसक हो गया. संयंत्र की तरफ बढ़ने से रोके जाने कारण प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया और पुलिस के वाहनों को पलट दिया. पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प में 9 लोगों की मौत हो गई है. पूरे शहर में तनाव का माहौल बना हुआ है.

पुलिस ने बताया कि करीब 5000 प्रदर्शनकारी स्थानीय चर्च के निकट एकत्र हो गए और जब उन्हें संयंत्र तक मार्च करने की अनुमति नहीं दी गई तो उन्होंने जिला कलेक्ट्रेट तक रैली निकालने पर जोर दिया. इस बात पर प्रदर्शनकारियों और पुलिसकर्मियों के बीच पहले धक्का मुक्की हुई और बाद में इसने हिंसा का रूप ले लिया. स्थानीय लोगों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया और कुछ वाहनों को पलट दिया. सुरक्षाकर्मियों ने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े. प्रदर्शनकारियों की ओर से किए गए पथराव में कई लोग घायल हो गए.