गुड़गांव की सड़कों पर ट्रैफिक कम करने के प्रयास के तहत हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हुडा सिटी सेंटर और साइबर सिटी रेपिड मेट्रो के बीच 31.11 किलोमीटर लंबी मेट्रो लाइन के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) को मंजूरी दे दी है. यह निर्णय सोमवार को महानगर विकास प्राधिकरण की बैठक में लिया गया. Also Read - मुख्‍यमंत्री खट्टर-रामदेव की चल रही थी मीटिंग, CM आवास का घेराव रहे यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने चलाई वाटर कैनन

जीएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) वी. उमा शंकर ने कहा, ‘हरियाणा मास रैपिड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एचएमआरटीसी) द्वारा 5,126 करोड़ रुपये की अनुमानित कीमत से बनने वाली मेट्रो लाइन पर 25 स्टेशन और छह इंटरचेंज स्टेशन होंगे. इसका संचालन 2023 तक शुरू होगा.’ Also Read - खट्टर सरकार को झटका, विधायक सोमबीर सांगवान ने वापस लिया समर्थन- BJP-JJP को किसान विरोधी बताया

प्रस्तावित मार्ग पर जो मेट्रो स्टेशन होंगे, वे हैं- हुडा सिटी सेंटर, सेक्टर 45, साइबर पार्क, सेक्टर 46, सेक्टर 47, सेक्टर 48, टेक्टनोलॉजी पार्क, उद्योग विहार फेज 6, सेक्टर 10, सेक्टर 37, बसई, सेक्टर नौ, सेक्टर सात, सेक्टर चार, सेक्टर पांच, अशोक विहार, सेक्टर तीन, कृष्णा चौक, पालम विहार एक्सटेंशन, पालम विहार, सेक्टर 23 ए, सेक्टर 22, उद्योग विहार फेज चार और पांच तथा साइबर सिटी. Also Read - Free Tablets To Students Latest News: इस राज्‍य में स्‍टूडेंट्स को फ्री में टैबलेट देगी सरकार

उमा शंकर ने कहा, ‘यह भी निर्णय लिया गया है कि लगातार संचालन के लिए मेट्रो कॉरीडोर और रैपिड मैट्रो के बीच ट्रैक एकीकरण पर विचार किया जाएगा.’ जीएमडीए ने गुड़गांव के लिए 160 करोड़ रुपये की अनुमानित कीमत की व्यापक जल निकासी योजना को भी मंजूरी दे दी है.