गुड़गांव: अशोक विहार फेज वन में रहने वाले एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की बेहद निर्मम तरीके से हत्या कर दी. हत्यारे ने सो रही पत्नी पर लगातार 40 बार बिना रुके चाकू से वार किया सिर्फ इतना ही नहीं उसके बाद उसने उसके सर पर लोहे की किसी चीज से वार किया जिससे उसके सर का अंदरूनी हिस्सा बाहर आ गया. उसके बाद हत्यारे ने मृतका के पिता को फोन पर सूचना भी दी कि तुम्हारी बेटी की मौत हो चुकी है.

हत्यारा पति गिरफ्तार
पुलिस ने रविवार को इस जघन्य वारदात के संबंध में जानकारी दी. गुड़गांव पुलिस के प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि हत्यारोपी 28 वर्षीय पंकज भारद्वाज और उसके 40 वर्षीय सहयोगी नशीम अहमद को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. उन्होंने बताया कि वंशिका शर्मा शनिवार को मृत मिली थी, उसके शरीर पर चाकू के वार के 40 निशान थे. बोकन ने बताया, ‘‘ भारद्वाज घटना के बाद से फरार था. वह हमारा मुख्य संदिग्ध था. हमने उसे रविवार को लक्ष्मण विहार क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया.

पत्नी का व्यवहार नापसंद था
जांच अधिकारी एसएचओ सुमित कुमार के मुताबिक पकड़े गए हत्यारोपी ने पूछताछ के दौरान कहा कि वह उससे नफरत करता था क्योंकि वह उसे अपने परिवार वालों के उकसाने पर अक्सर जलील करती थी. उसे उसका यह व्यवहार पसंद नहीं था. उसने यह भी कहा कि वह उससे बात भी नहीं करती थी इसलिए, उसने उसे मारने का फैसला किया और अपने एक सहकर्मी नसीम के साथ मिलकर हत्या की योजना बनाई. नसीम ने ही उसे चाकू खरीदने में मदद की थी. वह दोनों पिछले दो महीने से हत्या की योजना बना रहे थे. एसएचओ कुमार के मुताबिक आरम्भिक जांच में ये बात सामने आई है कि उन दोनों के बीच अक्सर झगड़े होते रहते थे.

6 महीने से रजाई में लिपटा शव बन गया था ‘ममी’ पड़ोसियों को नहीं लगी भनक, इस तरह खुला राज

पुलिस के मुताबिक यह घटना दिल्ली से सटे गुरुग्राम इलाके के अशोक विहार फेज-1 में शनिवार देर रात की है जब इस शख्श ने अपनी पत्नी वंशिका की निर्मम तरीके से हत्या कर दी जब वो गहरी नीद में सो रही थी. हत्यारे ने बिना रुके उसके शरीर पर 40 बार ताबड़तोड़ चाकू से वार करने के बाद उसके सिर पर वार किया. हत्या से पहले सिरफिरे शख्श ने पत्नी का मुंह रजाई से दबाने का भी प्रयास किया. पुलिस को रजाई पर भी चाकू के निशान मिले हैं. रविवार को पुलिस ने मृतका के परिजनों की मौजूदगी में शव का पोस्टमार्टम कराया. पुलिस को हत्यारोपी पति और हत्या की साजिश रचने में उसकी मदद करने वाले साथी नसीम को गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली है.

दहेज़ की करता था मांग
पुलिस के मुताबिक, मृतका के पिता दिल्ली के पटेल नगर में रहने वाले महेश शर्मा द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में बताया है कि उनकी बेटी वंशिका की शादी दो साल पहले ही अशोक विहार फेज-1 निवासी पंकज भारद्वाज से हुई थी. शादी के वक्त उन्होंने काफी खर्च किया था उन्होंने पंकज एवं उसके परिजनों की मांग पर कर्ज लेकर दहेज़ में कार भी दी थी, बावजूद इसके पंकज की डीमांड हमेशा बनी रही. महेश ने अपनी शिकायत में बताया है कि आरोपी शादी के बाद दहेज की मांग को लेकर उनकी बेटी को परेशान करता था.

उन्होंने बताया कि वारदात वाले दिन यानि शनिवार की दोपहर उनकी बेटी उन्हें फोन कर उन्हें बुलाया था जिस पर उन्होंने रविवार को आने को कहा था. वो बताते हैं कि इसके बाद उसी रात आरोपी ने उन्हें सूचना दी कि उनकी बेटी की मौत हो चुकी है. इसके बाद वह भाग कर मौके पर पहुंचे और पुलिस को भी सूचना दी. जांच अधिकारी एवं थाना प्रभारी सुमित कुमार के मुताबिक मामले की हर पहलुओं से तफ्तीश शुरू कर दी गई है. दोनों आरोपियों से पूछताछ जारी है.