करनाल : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करनाल के एक गुरुद्वारे में जाने से इनकार कर दिया क्योंकि वहां लगी आतंकवादी जरनैल सिंह भिंडरावाले की तस्वीर को गुरुद्वारे के पदाधिकारियों ने हटाने से मना कर दिया. खट्टर ने अपने विधानसभा क्षेत्र करनाल में शुक्रवार को 13 तीर्थस्थलों का दौरा किया. इन स्थलों के अतिरिक्त वह दाचर गांव में गुरुद्वारे भी जाने वाले थे.

मुख्यमंत्री द्वारा गुरुद्वारा दौरा रद्द किए जाने के विरोध में दाचर गांव के सिख श्रद्धालुओं ने प्रदर्शन किया. खट्टर ने शनिवार को कहा, ‘‘मैंने गुरुद्वारे जाने के लिए समय निकाला था. हालांकि बाद में जब मुझे पता चला कि वहां भिंडरावाले की तस्वीर लगी हुई है तो मैंने गुरुद्वारा समिति के सदस्यों से उसे हटाने को कहा. मैंने उनसे कहा कि अगर वह तस्वीर हटा दी जाती है तो मैं निश्चित रूप से गुरुद्वारे आऊंगा, लेकिन वे सहमत नहीं हुए. दौरा कल सुबह नौ बजे रद्द कर दिया गया.’

एमपी में प्रोफेसर के अपमान का मामला: राहुल गांधी ने ये वीडियो पोस्ट कर एबीवीपी पर किया हमला

प्रदर्शनकारियों द्वारा दमकल गाड़ी को क्षति पहुंचाए जाने के संबंध में एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘जो कानून को अपने हाथ में लेंगे, उनसे कानून के तहत निपटा जाएगा.’ खट्टर के साथ यात्रा करने वाले असंध के भाजपा विधायक बख्शीश सिंह ने दाचर गांव के सिखों से अपील की कि वे शांति बनाए रखें और अशांति फैलाने वाले किसी भी विवाद को हवा न दें.

विवेक की पत्नी ने कहा- BJP सरकार बनने पर खुशियां मनाई थी, उसी ने हमारे साथ ऐसा किया

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि अंतिम समय में खट्टर का दौरा रद्द होने से वे अचंभित हैं. गुरुद्वारा समिति के एक अधिकारी ने संवाददाताओं से शुक्रवार को कहा कि उनसे जरनैल सिंह भिंडरावाले की तस्वीर हटाने के लिए सुबह के समय कहा गया. हालांकि हमने कहा कि ऐसा करने से गांव में तनाव पैदा हो सकता है.