आगरा: आगरा में हवीबगंज एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गई और लोको पायलट की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया. रेलवे पीआरओ संचित त्यागी ने बताया कि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा रेलवे ट्रैक पर स्लीपर रख दिये गये थे, जिन्हें सूचना मिलने के बाद तत्काल हटा दिया गया. अज्ञात के खिलाफ रेलवे ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करायी है. रेलवे ट्रैक और ट्रैफिक फिलहाल बिल्कुल साफ है. Also Read - आगरा: दो दिन पहले आततायियों ने बहन को जिंदा जला दिया, अब चचेरे भाई ने भी कर लिया सुसाइड

Also Read - शादी के 22 साल बाद भी मां नहीं बन पाई थी पत्नी, पति ने कुल्हाड़ी से काटा, गिरफ्तार

मामला आगरा ग्वालियर रेलवे ट्रैक डाउन लाइन का है. इस घटना की जांच के लिए एटीएस और आरपीएफ मौके पर पहुंच गयी. रेलवे के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गये और उन्होंने जांच पड़ताल शुरू कर दी है. Also Read - पैसों के विवाद में भाजपा सांसद की भतीजी के परिवार को जिंदा जलाने की कोशिश, आरोपी गिरफ्तार

यूपी में एक और रेल हादसा, गोरखपुर में बाघ एक्सप्रेस पटरी से उतरी

पिछले बुधवार को ही मालदा टाउन से नई दिल्ली जा रही न्यू फरक्का एक्सप्रेस (14003) के इंजन और नौ डिब्बे उत्तर प्रदेश में रायबरेली के पास पटरी से उतर गए जिसमें कम से कम 7 लोगों की मौत हो गई थी. इसमें करीब 35 यात्री घायल भी हो गए. यह दुर्घटना बुधवार सुबह करीब छह बजे रायबरेली के निकट हरचन्दपुर के बाबापुर के करीब हुई. अधिकारियों ने इसमें भी साजिश की आशंका जताई थी.

न्यू फरक्का एक्सप्रेस रायबरेली के पास पटरी से उतरी, आतंकी साजिश की आशंका, 7 की मौत, कई घायल

इसके एक दिन बाद सीएम योगी आदित्यनाथ के जनपद गोरखपुर में काठगोदाम से हावड़ा जाने वाली ट्रेन बाघ एक्सप्रेस की एक बोगी के चार पहिए गोरखपुर के डोमिनगढ़ यार्ड के पास पटरी से उतर गए थे. ट्रेन की गति धीमी होने के कारण इस दुर्घटना में जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ था.