नई दिल्ली: हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के लिए भाजपा ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है. हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने चंडीगढ़ में घोषणा पत्र जारी किया. इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के कार्यवाहक अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहे. इस दौरान भाजपा के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि यह समाज के सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व करता है. यह समाज में अंतिम कतार में बैठे व्यक्ति की परेशानियों को दूर करने पर केंद्रित है. जेपी नड्डा ने कहा, “यह एक संकल्प पत्र है. यह गंभीर और अध्ययन के बाद तैयार किया गया दस्तावेज है. इसकी तैयारी में काफी मेहनत की गई है. यह उपयोगिता वाला एक व्यवहारिक पत्र है.’ सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि उनकी सरकार ने हरियाणा के विकास को प्राथमिकता पर रखा. सभी वर्गों का ख्याल रखा.

इनेलो ने घोषणापत्र किया जारी, किसानों और छोटे कारोबारियों की कर्जमाफी का किया वादा

 

ये है घोषणा पत्र में किए गए वादे

घोषणा पत्र में खट्टर सरकार ने एक बार फिर सत्ता में आने के लिए कई वादे किए हैं. बीजेपी ने घोषणा पत्र में ज्यादा जोर समग्र ध्यान स्वास्थ्य देखभाल पर केंद्रित किया है. बीजेपी ने वादा किया कि हरियाणा में 2000 स्वास्थ्य और आरोग्य केंद्र स्थापित किए जाएंगे. वृद्धावस्था पेंशन तीन हजार रुपए होगी. अनुसूचित जाति समुदाय के लोगों को बिना गारंटी के तीन लाख रुपये तक का कर्ज दिया जाएगा.

इसके साथ ही किसानों की आय 2022 तक दोगुनी करने का वादा भी किया गया है. किसानों को तीन लाख रुपए तक ब्याज मुक्त फसल ऋण मिलेगा. इसके साथ ही  25 लाख युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा और हरियाणा को तपेदिक मुक्त बनाया जाएगा.

पार्टी ने राज्य में 500 करोड़ रुपये की लागत से 25 लाख युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिलाने का भी वादा किया है. पार्टी सत्ता में आई तो राज्य में 1000 खेल नर्सरियां भी बनाई जाएंगी.

शरद पवार ने शिवसेना के चुनावी वादे का उड़ाया मजाक, बोले- राज्य चलाना है खाना नहीं पकाना