चंडीगढ़ः कांग्रेस ने शुक्रवार को हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी कर दिया जिसमें किसानों के लिए कर्ज माफी और महिलाओं को सरकारी नौकरियों में आरक्षण देने का वादा किया गया है. कांग्रेस ने इसे ‘संकल्प पत्र’ का नाम दिया है और इसमें वादा किया गया है कि राज्य में पार्टी की सरकार बनी तो महिलाओं को सरकारी नौकरियों एवं निजी संस्थानों में 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा और हरियाणा रोडवेज की बसों में मुफ्त यात्रा की सुविधा मिलेगी.

पार्टी ने महिलाओं को पंचायती राज संस्थानों, नगर निगमों तथा नगर परिषदों में भी 50 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा किया. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि घोषणापत्र में महिलाओं से जुड़े मुद्दों पर विशेष ध्यान केंद्रित किया गया है. हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने घोषणा की कि अगर पार्टी की सरकार बनती है तो राज्य में किसानों का कृषि रिण माफ किया जाएगा.

Maharashtra election 2019: शिवसेना ने महाराष्ट्र में भाजपा नीत सरकार को कभी अस्थिर नहीं किया: उद्धव ठाकरे

उन्होंने कहा कि पार्टी ने अनुसूचित जाति और अत्यंत पिछड़ा वर्ग समुदाय से आने वाले कक्षा 1 से 10वीं तक के छात्रों को 12 हजार रुपये सालाना तथा कक्षा 11 और 12 के विद्यार्थियों के लिए 15 हजार रुपये सालाना वजीफा देने का भी वादा किया है. शैलजा ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर राज्य में एक अनुसूचित जाति आयोग बनाया जाएगा. भाजपा नीत राज्य सरकार के तहत हुए कथित घोटालों की जांच के लिए विशेष जांच समिति भी बनाई जाएगी.

प्रदेश में मादक पदार्थों की बढ़ती समस्या पर चिंता जताते हुए उन्होंने कहा कि इस पर रोकथाम के लिए विशेष कार्य बल का गठन किया जाएगा. घोषणापत्र जारी करने के मौके पर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी के राज्य विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा, घोषणापत्र समिति की अध्यक्ष किरण चौधरी तथा पूर्व रेल मंत्री पवन कुमार बंसल भी उपस्थित थे.