नई दिल्ली: हरियाणा में आज भाजपा विधायक दल की बैठक में मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) को अपना नेता चुन लिया है. ये तय हो गया है कि मनोहर लाल खट्टर ही एक बार फिर हरियाणा के मुख्यमंत्री होंगे. कल मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री पद का शपथ ग्रहण समारोह होगा. जिसमें मनोहर लाल खट्टर दोबारा मुख्यमंत्री पद एवं जेजेपी से उप मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. जी न्यूज की रिपोर्ट की मुताबिक जेजेपी से उप मुख्यमंत्री बनने का रास्ता अभी तक साफ नहीं हो पाया है, लेकिन सूत्रों ने बताया कि उप मुख्यमंत्री के रेस में जेजेपी के अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला की मां नैना चौटाला हो सकती हैं. इसके अलावा भाजपा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज भी उप मुख्यमंत्री के रेस में हैं लेकिन बाद में उन्होंने इस बात को खंडन करते हुए कहा कि पार्टी हमें जो जिम्मेदारी देगी मैं उसका अच्छे ढंग से निर्वाहन करूंगा.


भाजपा विधायक दल की बैठक में आज हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को अपना नेता चुन लिया है. हालांकि यह बैठक महज एक औपचारिकता थी क्योंकि पार्टी पहले से ही तय कर चुकी थी कि खट्टर ही अगली सरकार की अगुवाई करेंगे. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को नई दिल्ली में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि मुख्यमंत्री उनकी पार्टी का होगा और उपमुख्यमंत्री का पद क्षेत्रीय पार्टी को दिया जाएगा.

हरियाणाः जिसने बिगाड़ा खेल उसी के साथ गठबंधन कर सरकार बनाएगी भाजपा

राज्य में जेजेपी ने भाजपा को भारी नुकसान पहुंचाया है. आंकड़े बता रहे हैं कि उसने इस चुनाव में भाजपा के साथ चुनाव लड़ा और मतदाताओं ने भी उसे भाजपा के विरोधी दल के रूप में चुना है. जेजेपी के उम्मीदवारों ने भाजपा के पूर्व वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु और पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी बिरेन्द्र सिंह की पत्नी प्रेम लता जैसे दिग्गजों को मात दी है. जेजेपी को जिन 10 सीटों पर जीत हासिल हुई उसमें से आठ सीटों पर उसने भाजपा के उम्मीदवारों को हराया है.