चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कोविड-19 से प्रभावित देश की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज को ‘‘विश्व का सर्वाधिक सर्वांगीण कोविड-19 राहत पैकेज’’ करार दिया. Also Read - वैज्ञानिकों ने किया हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा का विश्लेषण, कोरोना मरीजों के इलाज में नहीं दिखा इस दवा का खास फायदा

उन्होंने पैकेज की घोषणा को लेकर मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया. खट्टर ने कहा, ‘‘यह विश्व का सर्वाधिक सर्वांगीण कोविड-19 आर्थिक राहत पैकेज है जिससे सभी क्षेत्रों की क्षमता में वृद्धि होगी.’’ उन्होंने यहां जारी एक बयान में कहा कि संकट की इस घड़ी में देश के विकास को एक मजबूती की जरूरत थी जिससे कि राष्ट्र आत्मनिर्भर, मजबूत और आत्मविश्वास परिपूर्ण बन सके. Also Read - स्वास्थ्य मंत्रालय के विशेषज्ञों का दावा, भारत में इस महीने खत्म हो जाएगी कोरोना महामारी

उन्होंने कहा कि देश वायरस की समस्या से जूझ रहा है और सभी तरह की आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से बंद होने की वजह से देश की ग्रोथ पर काफी गहरा प्रभाव पड़ा. उन्होंने कहा कि सभी को इस बात का एहसास था कि पीएम कुछ बड़ा ऐलान करने वाले हैं लेकिन किसी को इस बात की जानकारी नहीं थी कि वह इतने बड़े आर्थिक पैकेज की घोषणा करेंगे. Also Read - आईआईटी हैदराबाद ने डेवलप किया सस्ती कोरोना वायरस टेस्ट किट, महज 20 मिनट में देगा रिजल्ट

सीएम खट्टर ने कहा कि इस मुश्किल हालात में केंद्र सरकार देश को एक बार फिर से सुचारु रूप से चलाने के लिए हर संभव कदम उठा रही है और इस पैकेज से आर्थिक मजबूती लाने में काफी सहायता मिलेगी और कमजोर वर्गों की मुश्किलें खत्म होंगी.

आपको बता दें कि पीएम मोदी ने कल रात आठ बजे कोरोना संकट काल में देश के नाम पांचवें संबोधन में एक तरफ लॉकडाउन4 का ऐलान किया वहीं लॉकडाउन के बाद देश को आर्थिक गति प्रदान करने के लिए 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज के बड़ी घोषणा की. आर्थिक पैकेज के बारे में पीएम मोदी ने कहा कि यह देश की जीडीपी का दस प्रतिशत है और इससे हर वर्ग की समस्या दूर होगी.