कोरोना वायरस संक्रमण के कारण लंबे समय तक चले लॉकडाइन के बाद अब चीजें पटरी पर लौटने लगी हैं. हरियाणा में बुधवार को बस सेवा बहाल कर दी गई. अब राज्य में अन्य चीजों को फिर से खोलने की योजना पर काम चल रहा है. बाजार पहले ही खुल चुके हैं. राज्य के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार अगले महीने चरणबद्ध तरीके से विद्यालयों को खोलेगी. हालांकि कॉलेज अगस्त में खुलेंगे. Also Read - कोरोना के नए प्रकार के कारण वैश्विक स्तर पर संक्रमण के बढ़े मामले, जानिए इसके पीछे की वजह

उधर, बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन, हरियाणा (BSEH) 8 जून को कक्षा 10वीं की परीक्षा का रिजल्ट जारी कर सकता है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक बताया जा रहा है कि लंबित पड़े साइंस के पेपर के अंकों सहित सभी छात्रों को औसत अंक दिए जाएंगे. रिजल्ट सोमवार यानी 8 जून को घोषित किए जा सकते हैं और मूल्यांकन चार पेपरों के आधार पर किया गया है. छात्र रिजल्ट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट bseh.org.in पर देख सकते हैं. Also Read - दिल्ली में कोरोना के 2,505 नए मामले सामने आए, 10 लाख की आबादी पर किए जा रहे 32,650 टेस्ट

शिक्षा मंत्री पाल ने कहा कि राज्य सरकार एक दूसरे से दूरी तय करने के लिए अभिभावकों, शिक्षकों एवं विशेषज्ञों समेत संबंधित पक्षों से यह राय लेगी कि दो पालियों में कक्षाएं लगायी जाएं या नहीं. Also Read - चीन की बढ़ेंगी मुश्किलें! कहां से निकला कोरोना वायरस? जांच के लिए अगले हफ्ते चाइना जाएगी डब्ल्यूएचओ की टीम

मंत्री ने कहा कि पहले चरण में 10वीं से लेकर 12वीं तक की कक्षाएं जुलाई में खुलेंगी, उसके बाद छठी से लेकर नौंवी तक की कक्षाएं और अंतिम चरण में पहली से लेकर पांचवीं तक की कक्षाएं खुलेंगी.

राज्य में शिक्षण संस्थान मार्च में लॉकडाउन लगाये जाने के बाद से ही बंद हैं. एक सवाल के जवाब में पाल ने कहा कि यह पता लगाने के लिए कुछ विद्यालयों में डेमो कक्षाएं लगेंगी कि कैसे कक्षाओं में एक-दूसरे से दूरी बनाकर रखा जा सकता है.

इस बीच लॉकडाउन के चलते दो महीने से अधिक समय तक निलंबित रहने के बाद हरियाणा में अंतरराज्यीय बस सेवाएं फिर शुरू हो गई हैं. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि केंद्र के दिशानिर्देशों के तहत छूट की सीमाएं बढ़ाए जाने के साथ बुधवार को कुछ मार्गों पर अंतरराज्यीय बस सेवाएं फिर शुरू हो गईं. उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार तक अधिकतर मार्गों पर सेवाएं बहाल हो जाएंगी.