नई दिल्ली: कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप को कम करने व इस संकट को खत्म करने के लिए के विभिन्न भीड़भाड़ वाले स्थानों को किटाणुमुक्त (स्टरलाईजेशन) करने स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने निर्देश दिए हैं. इसके तहत दिल्ली से सटे फरीदाबाद और गुरुग्राम के लगभग सभी क्षेत्रों में यह मुहिम चलाई जाएगी. इसके अलावा हरियाणा के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने अधिकार क्षेत्रों में 20 से अधिक व्यक्तियों को एकत्रित न होने दें. वहीं गुरूग्राम व फरीदाबाद के लिए ये नियम 5 से अधिक व्यक्तियों को एकत्रित न होने देने का है, ताकि राज्य में इस वायरस को अधिक फैलने से रोका जा सके. Also Read - Covid-19 : भारत में कोरोना के 1 हजार मामले, घर जाने को बेताब प्रवासी मजदूर, यूरोप में लगा लाशों का ढेर

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने ये निर्देश वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित एक बैठक में गुड़गांव और फरीदाबाद समेत राज्य के सभी उपायुक्तों, पुलिस अधीक्षकों व सिविल सर्जन सहित अन्य अधिकारियों को दिए. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा, “स्टरलाईजेशन के दौरान नगरपालिका के कर्मचारियों को पूरा प्रोटोकोल अपनाना होगा और सभी संबंधित अधिकारियों को ऐसे सभी कर्मचारियों को वर्दी, टोपी, दस्ताने, मास्क इत्यादि मुहैया करवाना सुनिश्चित करना होगा ताकि हम इस बीमारी से लड़ सकें.” Also Read - Covid-19: तेलंगाना में कोरोना वायरस से पहली मौत, 6 नए मामले

उन्होंने कहा इसी प्रकार से गांवों में पंचायतों की मदद से स्टरलाईजेशन किया जाना चाहिए. सभी जिलों के उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक अपने-अपने जिलों में बनाए गए आईसोलेशन वार्ड व क्वारैन्टाईन कमरों का निरीक्षण करें. विज ने कहा “अभी तक राज्य सरकार ने लगभग 2400 आईसोलेशन वार्ड (पृथक वार्ड) और 6000 से अधिक क्वारनटाईन कमरों (संगरोधक कमरों) को तैयार किया जा चुका हैं और इस प्रकार की व्यवस्था को बढ़ाने की कार्यवाही लगातार जारी है.” उन्होंने पुलिस अधिकारियों से कहा ” ऐसे सभी अस्पताल, जहां कोरोनावायरस के मरीजों को रखा गया है और आईसोलेशन-क्वारैन्टाईन वार्ड बनाए गए हैं. उन सभी जगहों पर पीसीआर वैन और पर्याप्त पुलिस कर्मी तैनात रहेंगे ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न हों.” Also Read - Covid-19: BCCI ने प्रधानमंत्री के आपदा प्रबंधन राहत कोष में दिए 51 करोड़ रूपये