नई दिल्ली. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी.नड्डा ने रविवार को कहा कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) शुरू होने के करीब एक महीने के भीतर एक लाख लोगों को इस महत्वकांक्षी योजना का लाभ मिला है. नड्डा ने हिंदी में ट्वीट किया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 सितंबर को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का शुभारंभ किया जिसके एक महीने के अंदर एक लाख लोगों ने योजना का लाभ उठाया है. आने वाले समय में समाज के अंतिम पायदान के व्यक्ति तक इस योजना का लाभ दिलाया जा सके इसके लिए हम प्रतिबद्ध हैं.

विश्व का सबसे बड़ा कार्यक्रम
बता दें कि इस योजना को विश्व का सबसे बड़ा स्वास्थ्य बीमा कार्यक्रम बताया जा रहा है. इससे देश के 55 करोड़ लोगों को चिकित्सा लाभ पहुंचने का अनुमान है. प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पहले आयुष्मान भारत) की देशभर में शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 23 सितंबर को झारखंड से की थी. योजना के तहत देश के दस करोड़ गरीब परिवारों को सालाना पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा कवर उपलब्ध कराया गया है. योजना में परिवार के आकार और उम्र को लेकर कोई सीमा नहीं रखी गई है.

दो सप्ताह में 38 हजार को फायदा
योजना शुरू होने के दो सप्ताह बाद राष्ट्रीय स्वास्थ्य एजेंसी के सीईओ इंदु भूषण ने कहा 38 हजार लोगों ने योजना का लाभ उठाया है. योजना के तहत देशभर में नौ हजार से अधिक अस्पतालों को शामिल किया गया है. देश के 32 राज्यों और संघ शासित प्रदेशों ने योजना को लागू करने के लिये केनद्र सरकार के साथ सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये हैं. हालांकि फिलहाल तेलंगाना, ओडिशा, दिल्ली और केरल ने इस योजना नहीं अपनाया है.