नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को दोहराया कि देश में कोरोना वायरस के सामुदायिक संक्रमण का अब तक कोई मामला नहीं है. साथ ही लोगों से अनुरोध किया कि वे लॉकडाउन के नियमों का पालन करें तथा आपसी मेलजोल से दूरी बनाए रखें. स्वास्थ्य मंत्रालय ने आईसीएमआर के एक अध्ययन संबंधी सवाल के जवाब में यह बात कही. Also Read - Viral Video: ना दो गज की दूरी- ना मास्क, साड़ी की दुकान पर भारी भीड़, IPS बोले- यहां तो कोरोना भी घुसने से डरेगा...

दरअसल, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार गंभीर श्वास संक्रमण (एसएआरआई) से पीड़ित कोरोना वायरस संक्रमित कुल 104 मरीजों में से 40 मरीज ऐसे पाए गए जिन्होंने न विदेश यात्रा की थी और न ही वे किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए थे. Also Read - India Corona Updates: 24 घंटे में देश में कोरोना के 55 हजार से अधिक मामले, एक्टिव केस साढ़े सात लाख के नीचे

आईसीएमआर ने 15 फरवरी से दो अप्रैल के बीच 20 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के 52 जिलों में एसएआरआई से पीड़ित 5,911 मरीजों की कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर औचक जांच की थी जिसमें यह निष्कर्ष सामने आया. मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी लव अग्रवाल ने कहा, ‘‘अब तक देश में सामुदायिक संक्रमण का कोई मामला नहीं है. घबराने की जरूरत नहीं है.’’ Also Read - Oxford-AstraZeneca Vaccine वॉलंटियर की टेस्ट के दौरान हुई मौत, क्या बंद होंगे वैक्सीन के ट्रायल? जानें पूरा मामला

शुक्रवार को विभिन्न राज्यों से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर बनी पीटीआई की तालिका के मुताबिक देश में संक्रमण के कम से कम 7,510 मामले हैं और 238 लोगों की मौत हुई है.