Heavy Rainfall In Mumbai : कभी न थमने रुकने वाली मुंबई एक बार फिर रुक चुकी है. बीती रात से हो रही जोरदार बारिश के कारण मुंबई (Heavy Rainfall In Mumbai) के कई इलाकों में जलभराव हो चुका है. ऐसे में सड़कें और रेलवे की पटरियां सभी डूब चुकी है. सड़कों पर तो 2 फीट तक पानी जमा हो गया है. बृहन्मंबई नगर निगम के अनुसार मुंबई शहर में 10 घंटों में 230 मिमी से अधिक की वर्षा दर्ज की गई है. साथ ही अरब सागर के उपर मॉनसून सक्रिय हो गया है. Also Read - Mumbai Local Train News: मुंबई के वेस्टर्न रेलवे रूट पर आज 6 घंटे का ब्लॉक, लोकल ट्रेन सेवाएं होंगी प्रभावित- जानें क्या है वजह...

सोमवार को मुंबई में भीषण बारिश देखने को मिली. इस कारण मुंबई में भारी बारिश के साथ हाईटाइड की चेतावनी (warning issued) भी जारी कर दी गई है. हाईटाइड दोपहर 12.47 बजे आ सकता है. ऐसे में बारिश और जलभराव के कारण मुंबई के सभी सरकारी दफ्तरों को बंद करने का आदेश जारी कर दिया गया है. सिर्फ जरूरी काम के लिए बाहर निकले की अनुमित दी गई है. इस दौरान केवल अपालकालीन सेवाओं के दफ्तरों को खोले जाने की अनुमति दी गई है. Also Read - Gurugram Building Bent: बारिश के कारण झुक गई चार मंजिला इमारत, फोटोज हो रहीं वायरल

BMC ने लोगों से अपील की है कि वे बारिश हाईटाइड के दौरान घरों से बाहर न निकले. साथ ही समंदर के पास रहने वाले लोगों के लिए खासतौर पर यह चेतावनी जारी की है. क्योंकि हाईटाइड के दौरान लहरे 4.45 मीटर तक उठ सकती हैं. बता दें कि भारी बारिश के कारण मुंबई की लाइफलाइन लोकल सर्विस को भी रोक दिया गया है. चारों लाइनों पर यातायत ठप पड़ चुका है. वहीं कुछ रूट्स पर बसों के रास्ते को भी बदल दिया गया है.

यही नहीं भारी बारिश के कारण भूस्खलन भी देखने को मिला है. वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर मकर क्षेत्र (landslide in malad) में पहाड़ी का एक हिस्सा टूटकर गिर चुका है. हालांकि अबतक इससे किसी भी नुकसान की खबर सामने नहीं आई है लेकिन लोगों को यातायात संबंधि परेशानियों का सामना जरूर करना पड़ रहा है. मुंबई के कई इलाकों में भारी बारिश के कारण जलभराव हो गया है. कांदिवली, परेल ईस्ट, और सबवे में जलजमाव से मुंबई थम गई है. इस दौरान आदेश जारी कर लोगों को अपने घरों में रहने की अपील की गई है. बता दें कि अगले 24 घंटे में और भी भीषण बारिश की आशंका है. इस कारण मुंबई की रफ्तार पर ब्रेक लगाई गई है. साथ ही सरकारी दफ्तरों को बंद करने व लोगों को उनके घरों में रहने की सलाह दी गई है.