नई दिल्ली: दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार और जम्मू कश्मीर सहित 13 राज्यों में मूसलाधार बारिश की मौसम विभाग द्वारा जारी की गयी चेतावनी के मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की 89 टीमों को हाई अलर्ट पर रखा गया है. Also Read - Bihar Flood: बिहार में बाढ़ से निपट रहीं NDRF की टीमें, अबतक 11 हजार से अधिक लोगों की बचाई गई जान

Also Read - England vs Pakistan 1st Test Predicted Playing XI : मैनचेस्टर टेस्ट में ऐसा हो सकता है ENG vs PAK का प्लेइंग XI, बारिश डाल सकती है खलल

एनडीआरएफ की ओर से गुरुवार को बताया गया कि इन राज्यों में बारिश के दौरान बाढ़ की आशंका वाले इलाकों में 45 टीमों को तैनात कर दिया गया है. बाढ़ की आपदा के दौरान किसी भी संभावित स्थिति से निपटने में सक्षम और विशेष प्रशिक्षण प्राप्त राहत एवं बचाव कर्मियों को इन टीमों में शामिल किया गया है. Also Read - Bihar Floods: बिहार में नदियां उफान पर, बाढ़ से मचा हाहाकार, 50 लाख से अधिक लोग प्रभावित

Good News: IIT कानपुर के सहयोग से सूखाग्रस्त इलाकों में कृत्रिम बारिश करवाएगी यूपी सरकार, बुंदेलखंड से होगी शुरुआत

इनमें से सर्वाधिक असम में 12 टीमें, बिहार में सात, गुजरात, जम्मू कश्मीर और उत्तराखंड में चार चार तथा अरुणाचल प्रदेश एवं पश्चिम बंगाल में तीन तीन टीमें भेजी गयी है. दिल्ली और पंजाब में दो-दो एवं उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, सिक्किम और त्रिपुरा में एक-एक टीम भेजी गयी है. एनडीआरएफ की इन टीमों ने असम सहित अन्य राज्यों में बाढ़ की आशंका वाले इलाकों से अब तक 13550 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेज दिया है. साथ ही इन इलाकों में स्थानीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरणों के साथ मिलकर स्कूल तथा अन्य स्थानों पर बाढ़ की स्थिति से निपटने के बारे में जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है.

बीजेपी सांसद सुब्रहमण्यन स्वामी ने कहा- राहुल गांधी लेते हैं कोकीन, डोप टेस्ट में हो जाएंगे फेल

उल्लेखनीय है कि मौसम विभाग ने गुरुवार से लेकर नौ जुलाई तक कोंकण एवं गोवा में कुछ स्थानों पर मूसलाधार बारिश होने की चेतावनी जारी की है. जबकि मध्य महाराष्ट्र, विदर्भ, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, गुजरात, मराठवाड़ा क्षेत्र, तेलंगाना, कर्नाटक के तटीय और भीतरी इलाकों एवं पूर्वोत्तर के सभी राज्यों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग ने तमिलनाडु, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और कनार्टक में कुछ स्थानों पर तूफान और तेज हवाओं के साथ बारिश की आशंका व्यक्त की है. वहीं राजधानी दिल्ली में गुरुवार दोपहर बाद कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश ने उमस भरी गर्मी से राहत दी.

माल्या की 159 संपत्तियों की हुई पहचान, किंतु नहीं हो सकी कुर्क : पुलिस

दिल्ली में अगले तीन दिनों तक आंशिक बादल छाये रहने के बाद नौ और दस जुलाई को गरज बरस के साथ बारिश की बौछारें मौसम को खुशगवार बनायेंगी. विभाग ने 11 जुलाई को दिल्ली के अधिकांश इलाकों में तूफान और तेज बारिश की आशंका जतायी है. इस बीच आगामी 11 जुलाई तक राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रहने का पूर्वानुमान है, जबकि आज और कल अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रहने के बाद आठ जुलाई को यह 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान है. इसके बाद मानसून की सक्रियता में बढ़ोतरी का दौर शुरू होने पर नौ तारीख से अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की जायेगी. इसके 11 जुलाई को 36 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की उम्मीद है.