देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गढ़वाल की पहाड़ियों के बीच बसे गौचर और चिन्यालीसौड़ शहरों के लिए केंद्र की ‘उड़ान’ योजना के तहत शनिवार को हेलीकॉप्टर सेवा की शुरुआत की. सेवा के उद्घाटन के लिए आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रावत ने कहा कि इस सेवा से राज्य के दूर दराज के इलाकों को फायदा होगा. Also Read - Uttarakhand Covid Update Today: कोरोना नियम तोड़ने पर कटे 2 लाख लोगों के चालान, दवाईयों की कालाबाजारी पर लगेगा NSA

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार हेलीकॉप्टर सेवा का विस्तार अन्य जिलों में करने की योजना बना रही है और इसके लिए हेलीपैड विकसित किए जा रहे हैं. उल्लेखनीय हेरिटेज एविएशन प्राइवेट लिमिटेड छह सीटों और दो इंजन वाले हेलीकॉप्टर का परिचालन इन दोनों शहरों के बीच करेगा. Also Read - Char Dham Yatra 2021: कोरोना महामारी के चलते उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला, रद्द की गई चार धाम यात्रा

सहस्त्रधारा से गौचर के लिए 4,120 रुपये प्रति यात्री और सहस्त्रधारा से चिन्यालीसौड़ के लिए 3,350 रुपये प्रति यात्री किराया निर्धारित किया गया है. सहस्त्रधारा से गौचर और चिन्यालीसौड़ से रोजाना दो बार हेलीकॉप्टर उड़ान भरेंगे. इस हेलीकॉप्टर सेवा से चार धाम के यात्रियों को भी सहूलियत होगी क्योंकि गौचर, चमोली जिला स्थित बदरीनाथ धाम के रास्ते में पड़ता है. वहीं, उत्तरकाशी जिला स्थित गंगोत्री के रास्ते में चिन्यालीसौड़ स्थित है. Also Read - College Reopening in Uttarakhand: उत्तराखंड में इस दिन से खुलेंगे यूनिवर्सिटी और कॉलेज, विभाग ने जारी किया SOP, जानें क्या है इसको लेकर प्लान