रांचीः झारखंड के मनोनीत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार को कहा कि वह चुनाव जीतने के बाद से जनता से लगातार मिल रहे प्यार एवं सम्मान से अभिभूत हैं और उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे उन्हें उपहार में बुके के बजाय पुस्तकें दें जो सदा उनका ज्ञानवर्धन करती रहेंगी. हेमंत सोरेन ने ट्वीट किया, ‘‘साथियों, मैं अभिभूत हूँ आप झारखंडवासियों के प्यार एवं सम्मान से. पर मैं आप सबसे एक करबद्ध प्रार्थना करना चाहूंगा, कि कृपया मुझे फूलों के ‘बुके’ की जगह ज्ञान सी भरी ‘बुक’ मतलब अपने पसंद की कोई भी किताब दें. मुझे बहुत बुरा लगता है कि मैं आपके फूलों को सम्भाल नहीं पाता.’’

उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया, ‘‘आप अपनी दी किताबों में अपना नाम लिख कर दें ताकि जब हम आपकी किताबों को सम्भालकर एक पुस्तकालय बनवाएंगे – तो आपका प्रेम भरा यह उपहार हमेशा हम सभी का ज्ञानवर्धन करेगा.’’ हेमंत ने कहा, ‘‘झारखंड के कोने-कोने से लोगों का मिल रहा स्नेह और आशीर्वाद सचमुच अकल्पनीय है. सभी को मेरा अनेक-अनेक धन्यवाद.’’

उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरा संकल्प है कि हर झारखंडवासी के सपने होंगे पूरे. साथ दें, साथ चलें नए झारखंड की राह.’’ हेमंत सोरेन को राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने राज्य का मुख्यमंत्री मनोनीत किया है और उन्हें 29 दिसंबर की दोपहर दो बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेनी है. शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अलावा उद्धव ठाकरे, ममता बनर्जी एवं अरविंद केजरीवाल समेत कई राज्यों के मुख्यमंत्री, कांग्रेस के नेता राहुल गांधी एवं प्रियंका गांधी समेत कई नेता मौजूद रहेंगे.