नई दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय ने आप सरकार और पुलिस को शुक्रवार को उस याचिका पर जवाब देने के लिए कहा जिसमें हिंसाग्रस्त उत्तरपूर्वी दिल्ली में बोर्ड परीक्षाओं के केंद्रों पर सुरक्षा सुनिश्चित करने का अनुरोध किया गया है. संशोधित नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली में हुई हिंसा में 39 लोगों की मौत हुई और सैकड़ों लोग घायल हो गए. Also Read - मौलाना साद को गिरफ्तार नहीं करेगी दिल्ली पुलिस, सामने आए तो क्वारंटाइन में रखा जाएगा

  Also Read - निजामुद्दीन मरकज को खाली कराने वाली टीम में शामिल रहे दिल्‍ली पुलिस के 7 जवान छुट्टी पर भेजे गए


न्यायमूर्ति राजीव शकधर ने याचिका पर दिल्ली सरकार तथा पुलिस को नोटिस जारी किया और उनसे यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि हिंसाग्रस्त उत्तरपूर्वी दिल्ली में बोर्ड परीक्षा केंद्रों पर सुरक्षा को लेकर कोताही न बरती जाए. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने उच्च न्यायालय को बताया था कि वह उत्तरपूर्वी दिल्ली के केंद्रों पर दो मार्च से बोर्ड परीक्षाएं कराने को लेकर आशान्वित है.

Delhi Violence: SN श्रीवास्तव को मिला दिल्ली पुलिस आयुक्त का प्रभार, ताहिर हुसैन पर कही ये बड़ी बात

अदालत ने इलाके में ‘बिगड़ रहे हालात’ पर बुधवार को विचार किया था और सीबीएसई को प्रभावित केंद्रों या परीक्षा का कार्यक्रम बदलने को लेकर एक योजना लेकर आने के निर्देश दिए थे.