Top Recommended Stories

Hijab Controversy: कर्नाटक में हिजाब विवाद पर गरमाई राजनीति, मंत्री ने कहा-हम कोर्ट को सलाह नहीं दे सकते

कर्नाटक में हिजाब विवाद को लेकर राजनीतिक बयानबाजी जारी है. आज हाई कोर्ट इस मामले पर अपना फैसला सुना सकता है, राज्य के गृहमंत्री ने कहा-हम कोर्ट को सलाह नहीं दे सकते. दोषियों पर कार्रवाई होगी.

Updated: February 9, 2022 12:35 PM IST

By Kajal Kumari

karnataka hijab row, hijab row, hijab controversy, karnataka college students suspended hijab burqa, burqa, karnataka news, karnataka college protest, hijab protest
Shivamogga DC was quoted as saying in the report that the students were simply "threatened" and they were not officially suspended. (File photo for representational purpose)

Hijab Controversy: कर्नाटक के उडुपी कॉलेज से शुरू हुआ हिजाब विवाद अब तेजी से फैलता जा रहा है और अब इसे लेकर राजनीतिक बयानबाजी भी तेज हो गई है. आज जहां नोबेल पुरस्कार विजेता और पाकिस्तानी एक्टिविस्ट मलाला युसूफजई ने इस मुद्दे पर ट्वीट कर कर अपनी राय रखी है, वहीं प्रियंका गांधी ने भी तीखा हमला किया है. मलाला युसूफ ने अपने ट्वीट में लिखा है कि हमें कॉलेज में पढ़ाई और हिजाब के बीच एक को चुनने के लिए मजबूर किया जा रहा है. लड़कियों को हिजाब में स्कूल जाने से मना करना भयावह है. यह महिलाओं का हक है कि वह कम या ज्यादा कपड़े पहनें. भारतीय नेताओं को मुस्लिम महिलाओं के हाशिए पर जाने को रोकना चाहिए.

Also Read:

भाजपा नेता ने मलाला के बयान का किया विरोध, मंत्री ने कहा-कांग्रेस का हाथ

नोबेल विजेता मलाला युसूफजई के बयान का कर्नाटक के भाजपा नेता सीटी रवि ने कड़ा विरोध किया है. उन्होंने सवाल किया कि मलाला भारत के आंतरिक मामलों में कैसे बोल सकती हैं?

इस बीच राज्य सरकार के राजस्व मंत्री आर. अशोक ने इस घटना के पीछे कांग्रेस का हाथ बताया है. उन्होंने कहा कि सरकार हिजाब या केसरिया के पक्ष में नहीं है. उन्होंने कहा कि स्टूडेंट्स जहां जो चाहें पहनें लेकिन स्कूलों में ड्रेस कोड अनिवार्य है. इस राजनीति के पीछे उन्होंने कांग्रेस का हाथ करार दिया.

ओवैसी ने पूछा-क्या यही है बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ

ओवैसी ने पूछा है कि भाजपा सरकार हमारी बेटियों को हिजाब पहनकर पढ़ाई नहीं करने दे रही है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन तलाक कानून के साथ मुस्लिम महिलाओं को सशक्त बनाने की बात करते हैं. क्या यही उनकी ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान की पिच है?

असदुद्दीन ओवैसी ने आगे कहा कि आपको हमारी महिलाओं से प्यार क्यों है? मैं क्या पहनता हूं, मेरी बेटी क्या पहनती है, या मेरी पत्नी क्या पहनती है- यह आपके काम का नहीं है. अगर आप कुछ भी नहीं पहनते हैं तो मुझे कोई आपत्ति नहीं होगी.

कांग्रेस ने लगाया आरोप, प्रियंका गांधी ने कही बड़ी बात

वहीं,  इस मामले पर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि महिलाएं बिकनी पहनें या हिजाब यह उनकी च्वाइस है. इस मामले में किसी को बोलने का कोई हक नहीं है.

कांग्रेस मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि, कर्नाटक में हिजाब का मुद्दा जानबूझकर वोटों के  ध्रुवीकरणऔर हिंदू-मुस्लिम के बीच लड़ाई को भड़काने के लिए किया जा रहा है … क्योंकि इसके पीछे राजनीतिक दल प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से हैं.

इस मुद्दे के सामने आने  के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्बई ने बुधवार को बैठक बुलाई है, इसमें हिजाब विवाद पर विचार होगा. राज्य में तीन दिन के लिए स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं और कर्फ्यू लगा दिया है.

कर्नाटक के गृहमंत्री ने कहा-कोर्ट के आदेश का पालन होगा

हिजाब विवाद पर कर्नाटक के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने कहा है कि जहां भी यह अप्रिय घटना हुई है वहां कार्रवाई की जाएगी. पुलिस ने मामले दर्ज कर लिए हैं. कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है, वे सभी बाहरी हैं, स्कूल के छात्र नहीं, पूछताछ के बाद ही हम आपको बताएंगे. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर आज अदालत के आदेश की उम्मीद कर रही है. हम कोर्ट को सलाह नहीं दे सकते. अदालत जो भी आदेश देगी अदालत के आदेश को हमें  स्वीकार करना होगा.

मंगलवार को बेकाबू हो गए थे हालात

बता दें कि हिजाब विवाद के बीच कर्नाटक के कुछ कॉलेजों में मंगलवार को हालात बिगड़ गए, जब हिजाब के समर्थक और भगवा शॉल पहने कुछ लोग आमने-सामने आ गए. दावणगेरे जिले के हरिहर फर्स्ट ग्रेड कॉलेज में हिंसक भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े और लाठीचार्ज करना पड़ा. इसमें कई पुलिसकर्मी और स्टूडेंट घायल हो गए हैं.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: February 9, 2022 12:22 PM IST

Updated Date: February 9, 2022 12:35 PM IST