शिमला: हिमाचल प्रदेश सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाते हुए ऐप और हेल्पलाइन की शुरुआत की है. प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने रविवार को बताया कि सरकार ने गणतंत्र दिवस पर ‘शक्ति बटन ऐप’ और ‘गुड़िया हेल्पलाइन’ जैसी दो पहलों की शुरुआत कर महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों पर अंकुश लगाने की अपनी प्रतिबद्धता जाहिर की है. Also Read - दिल्ली सरकार के कर्मचारियों के लिए त्योहारी तोहफा, मिलेगा 36 और 20 हजार का LTC

शक्ति बटन ऐप को राष्ट्रीय सूचना केंद्र (एनआईसी) हिमाचल प्रदेश ने प्रदेश पुलिस के लिए डिजाइन किया है. यह ऐप हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में है और इसका इस्तेमाल करना आसान है. Also Read - सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, केंद्र की तर्ज पर अब योगी सरकार देगी त्योहारी एडवांस

कोई महिला परेशानी में होने की स्थिति में इस पर लाल बटन को दबा सकती है, जिसके 20 सेकंड के भीतर ऐप के जरिए महिला का फोन नंबर, नाम और महिला का लोकेशन पुलिस नियंत्रण कक्ष को मिल जाएगी. वहां तैनात पुलिसकर्मी तुरंत इस संदेश को संबद्ध थाने व पुलिस चौकी को भेज देगा. Also Read - कोरोना के साथ-साथ अन्य मौसमी बीमारियों को कैसे रखें दूर? सरकार ने जारी किए दिशा-निर्देश

अगर झगड़े में मोबाइल नीचे गिर भी जाता है तो संदेश प्रेषित हो जाएगा. इसी प्रकार गुड़िया हेल्पलाइन किसी आपात स्थिति में महिलाओं की सहायता के लिए जारी की गई है. टोल फ्री नंबर 1515 इसके लिए जारी किया गया है जो चौबीसों घंटे काम करेगा.