शिमला: हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में गुरुवार को एक निजी बस के एक गहरी खाई में गिरने से 43 लोगों की मौत हो गई. हादसे में 35 लोग घायल हो गए. यह जानकारी पुलिस ने दी. बस में क्षमता से अधिक यात्री सवार थे. यहां तक कि बस की छत पर भी मुसाफिर बैठे हुए थे. इनमें से अधिकांश लोग कुल्लू और मंडी जिलों के थे. उधर, मुख्यमंत्री ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिये है.

 

जानकारी के मुताबिक, हादसा कुल्लू शहर से 50 किलोमीटर दूर स्थित बंजार के पास हुआ. पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि निजी बस कुल्लू से गदा गुशैनी जा रही थी, जब वह सड़क से फिसलकर खाई में जा गिरी. उन्होंने बताया कि घायलों को कुल्लू और मंडी के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. घायलों में बंजार के स्कूल व कॉलेज के विद्यार्थी भी शामिल हैं जो अपने घरों को लौट रहे थे. प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि बस मुसाफिरों से ठसाठस भरी हुई थी और चालक एक मोड़ पर शायद नियंत्रण खो बैठा.

घटना की मजिस्ट्रेट जांच का आदेश
प्रत्यक्षदर्शी रमेश ठाकुर ने कहा कि बचाव कर्मियों को शवों और घायलों को वाहन और खाई से निकालने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. राज्यपाल आचार्य देवव्रत और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हादसे पर गहरा दुख जताया है. कुल्लू के जिला प्रशासन ने मरने वालों के परिजनों और घायलों को 50-50 हजार की तात्कालिक आर्थिक मदद देने का ऐलान किया है. घटना की मजिस्ट्रेट जांच का आदेश दिया गया है.

 

राज्यपाल व सीएम ने जताया शोक
हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत और मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने इस दुर्घटना पर दुख प्रकट किया है. अधिकारियों ने बताया कि सीएम ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिये हैं. घायलों का बंजार सिविल अस्पताल और कुल्लू जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है और आशंका है कि मरने वालों का आंकड़ा और बढ़ सकता है.

 

राहुल गांधी ने हिमाचल में बस हादसे पर दुख जताया
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुए बस हादसे पर दुख जताया और क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे पीड़ितों की मदद करें. गांधी ने ट्वीट कर कहा कि हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुई बस दुर्घटना दुखद हैं. इस दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. मैं इस क्षेत्र के कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं से पीड़ितों की मदद करने का अनुरोध करता हूं.