कुल्लू (हिमाचल प्रदेश): हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में पंजाब की एक निजी पर्यटक बस सड़क से फिसलकर तेज बहाव वाली पार्वती नदी में जा गिरी। पुलिस ने बताया कि इस दुर्घटना में छह लोगों की मौत हो गई, जबकि 12 अन्य घायल हो गए। बस में सवार 29 यात्री अभी भी लापता हैं। दुर्घटनाग्रस्त बस का अभी तक पता नहीं लग पाया है जिसके कारण उनके बचने की संभावनाएं न के बराबर हैं। यह भी पढ़े:राजौरी में कर्फ्यू में 2 घंटे की ढीलAlso Read - Major Accident in Rajasthan: ट्रेलर में घुसी बस, 4 लोगों की मौत; दो दर्जन घायल

Also Read - 6th Pay Commission: हिमाचल सरकार ने दिया अपने कर्मचारियों को तोहफा, नए वेतनमान की घोषणा की

अधिकारियों के मुताबिक दुर्घटना की शिकार हुई बस में 51 यात्री सवार थे, इसीलिए मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है। बस में सवार सभी यात्री पंजाब के बरनाला के रहने वाले थे और प्रसिद्ध सिख धर्मस्थल मणिकरन जा रहे थे। Also Read - Video: CBI टीम पर ग्रामीण पुरुष- महिलाओं ने किया अटैक, बच्‍चों के यौन उत्पीड़न सामग्री का मामला

पुलिस उपायुक्त राकेश कंवर ने आईएएनएस से कहा कि बस भुंटर से आठ किलोमीटर दूर भुंटर-मणिकरन मार्ग पर सरसारी गांव में दुर्घटनाग्रस्त हुई। उन्होंने कहा कि छह शव बाहर निकाल लिए गए हैं और राहत कार्य जोरों पर है।

राकेश कंवर ने बताया, “बस का अभी तक कोई पता नहीं चला है। ज्यादातर शव अभी बस में ही फंसे हैं या फिर नदी की तेज धारा में बह गए।” उन्होंने कहा कि दुर्घटना के कारणों का अभी तक पता नहीं लगाया जा सका है। घायलों को राज्य की राजधानी शिमला से 200 किलोमीटर दूर कुल्लू के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सरकार ने शवों का पता लगाने के लिए भाखड़ा ब्यास प्रबंधन समिति (बीबीएमबी) के गोताखोरों को बुलाया है। राज्य के राज्यपाल कल्याण सिंह और मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने दुर्घटना में जान गंवाने वालों के प्रति शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को तलाश अभियान तेज करने का आदेश दिया है। इसके अतिरिक्त उन्होंने घायलों को सभी संभव सहायता उपलब्ध कराने के लिए कहा है।