नई दिल्लीःत्रिपुरा में पहली बार बीजेपी की सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले बीजेपी नेता सुनील देवधर ने राज्य में बीफ बैन के सवाल पर कहा कि अगर किसी राज्य में बहुसंख्यक लोग नहीं चाहते तो वहां की सरकार उस पर बैन लगाएगी. नॉर्थ ईस्ट के राज्यों में बहुसंख्यक लोग बीफ खाते हैं इसलिए वहां की सरकार उस पर प्रतिबंध नहीं लगाएगी. उन्होंने कहा कि यहां पर ज्यादातर मुस्लिम और ईसाई हैं. कुछ हिंदू ऐसे भी हैं जो मांस खाते हैं तो मुझे ऐसा लगता है कि उस पर कोई बैन नहीं होना चाहिए. Also Read - Tripura-Sikkim-J&K Coronavirus: जम्मू-कश्मीर में कोरोना के 122 नए मामले, त्रिपुरा और सिक्किम में भी बढ़ी मरीजों की संख्या, पढें डिटेल्स

गौरतलब है कि त्रिपुरा में ऐतिहासिक जीत दर्ज कर भारतीय जनता पार्टी ने गठबंधन की सरकार बनाई है. इससे पहले कम्युनिस्ट पार्टी के माणिक सरकार सत्ता पर काबिज थे. बीजेपी की इस विराट जीत के पीछे जिस नेता का नाम सबसे ज्यादा उछला वो नाम है त्रिपुरा में बीजेपी के चुनाव प्रभारी सुनील देवधर का. अब सरकार बनने के बाद सुनील देवधर ने कहा है कि यहां राज्य में हिंदू भी बीफ खाते हैं इसलिए इसपर बैन नहीं लगना चाहिए.

इससे पहले त्रिपुरा के बीजेपी प्रभारी सुनील देवधर ने राज्य के नए मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब से अनुरोध किया था कि मंत्रियों के सभी क्वार्टर में उनके रहने से पहले सेप्टिक टैंकों की सफाई करा लें क्योंकि हो सकता है कि वहां कंकाल छिपाए गए हों. उन्होंने आरोप लगाया था कि माकपा हत्यारों की पार्टी है और हो सकता है कि उन्होंने सेप्टिक टैंकों में कंकाल छिपाए हों.