नई दिल्ली: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बड़ा एलान किया है. गृहमंत्री ने कहा कि 2021 को होने वाली जनगणना के लिए मोबाइल एप से बड़ी मदद ली जाएगी. जनगणना के सभी आंकड़े मोबाइल एप द्वारा ही जुटाए जाएंगे. उन्होंने कहा कि इस तरह से हम कागज़ पर जनगणना की बजाय डिजिटल जनगणना की ओर बढ़ेंगे.

दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि इस तरह की प्रणाली भी होनी चाहिए जिसमें किसी व्यक्ति की मृत्यु होते ही यह जानकारी जनसंख्या आंकड़े में अद्यतन हो जाए. बता दें कि मार्च 2021 से जनगणना होनी है. इससे पहले 2011 में जनगणना हुई थी. 2011 जनगणना के अनुसार, भारत की आबादी 121 करोड़ थी.

सरकार के इस फैसले के खिलाफ बैंककर्मी करेंगे हड़ताल, 4 दिन बंद रहेंगे बैंक, निपटा लें ज़रूरी काम

इसके साथ ही अमित शाह ने एक और बड़ा प्रस्ताव दिया है. उन्होंने कहा कि एक ऐसा कार्ड होना चाहिए, जिसमें कई कार्ड हों. यानी एक कार्ड में ही आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस और बैंक खाते जैसी सभी सुविधाएं जुड़ी हों. यानी सभी नागरिकों के लिए बहुउद्देशीय कार्ड होना चाहिए. गृहमंत्री ने कहा, ‘‘आधार, पासपोर्ट, बैंक खाते, ड्राइविंग लाइसेंस, और वोटर कार्ड जैसी सभी सुविधाओं के लिए एक ही कार्ड हो सकता है. इसकी संभावनाएं हैं.’’

ऐसा क्या हुआ जो पीएम मोदी को अमेरिकी सीनेटर की पत्नी से मांगनी पड़ी माफी, कहा- मुझसे जलन…