नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय बैठक में बृहस्पतिवार को देश में सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की गई. संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ देश के विभिन्न भागों में हो रहे प्रदर्शनों के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला, खुफिया ब्यूरो के निदेशक अरविंद कुमार और अन्य शीर्ष अधिकारी बैठक में मौजूद थे. गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि देश में सुरक्षा स्थिति का जायजा लेने के लिए बैठक हुई. Also Read - भ्रष्टाचार मामला: CBI ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को पूछताछ के लिए बुलाया

गौरतलब है कि देशभर में CAA को लेकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. इस विरोध प्रदर्शन के बीच बीते दिनों खूफिया विभाग ने एलर्ट जारी कर कहा था कि आतंकवादी भीड़ का फायदा उठाकर देश में कुछ बड़ी घटना को अंजाम दे सकते हैं. बता दें कि यूपी में प्रदर्शन के नाम पर जमकर तोड़ फोड़ और हिंसा की गई. हालांकि बाद में इसके तार आतंकी गतिविधियों से भी जोड़ा गया था. Also Read - West Bengal Polls: PM मोदी का ममता बनर्जी पर हमला, 'बंगाल में गवर्नेंस के नाम पर दीदी ने किया बड़ा गड़बड़झाला'

पुलिस ने इस मामले में जांच करने पर पाया कि इस विरोध प्रदर्शन को भड़काने का काम कुछ आतंकवादी समूह कर रहे थें. यही कारण था कि उत्तर प्रदेश में विरोध प्रदर्शन ने हिंसा का रूप ले लिया था. बता दें कि अभी भी विपक्षी पार्टियां CAA के खिलाफ हैं और उनका कहना है कि वह इस कानून को अपने राज्यों में लागू नहीं होने देंगे. Also Read - कूचबिहार की घटना पर बोले अमित शाह, 'ममता बनर्जी की सलाह ने लोगों को CISF पर हमले के लिए उकसाया'