नई दिल्ली : गृह मंत्रालय ने तूतीकोरिन मामले को लेकर तमिलनाडु सरकार से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. साथ ही गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने वहां के स्थानीय लोगों से संकट और दुःख की घड़ी में शांति बनाये रखने की भी अपील की है. गौरतलब है कि वेदांता ग्रुप के स्टरलाइट कॉपर संयंत्र को बंद करने की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की गोलीबारी में 11 लोगों की मौत हो गई थी. जबकि दर्जनों घायल हो गए थे. गृह मंत्रालय ने पुलिस गोलीबारी एवं तटीय शहर तूतीकोरन की मौजूदा स्थिति पर तमिलनाडु सरकार से रिपोर्ट मांगी है. Also Read - बीजेपी सांसद रवि किशन ने कहा- गर्भवती हथिनी के कातिलों को दी जाए फांसी, ये बेहद अमानवीय

राजनाथ सिंह व्यक्त की शोक संवेदना
गृह मंत्री ने तूतीकोरन में हुई हिंसा में मारे गए लोगों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, तमिलनाडु के तूतीकोरिन में आंदोलन के दौरान बहुमूल्य जानें जाने से मैं बेहद व्यथित हूं. मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. तमिलनाडु के तूतीकोरिन में हुई हिंसा के मद्देनजर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरूवार को वहां के लोगों से शांत रहने और शांति बनाए रखने की अपील की. तूतीकोरिन में हुई हिंसा में 11 लोगों की जान जा चुकी है. Also Read - मुश्किल वक्त में प्रवासी मजदूरों के साथ हर समय खड़ी है समाजवादी पार्टी, हर संभव करेंगे मदद : अखिलेश यादव

हिंसा के विरोध में विपक्ष द्वारा  बंद का आह्वान
गृह मंत्री ने कहा कि तूतीकोरिन में पुलिस गोलीबारी एवं तटीय शहर में मौजूदा स्थिति पर गृह मंत्रालय ने तमिलनाडु सरकार से रिपोर्ट मांगी है.
साथ ही उन्होंने तूतीकोरिन के लोगों से अपील करते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी में मैं लोगों से शांत रहने और क्षेत्र में शांति बनाए रखने की अपील करता हूं. तूतीकोरिन में प्रदूषण संबंधी मुद्दों को लेकर वेदांता ग्रुप के स्टरलाइट कॉपर संयंत्र को बंद करने की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों पर पुलिस की गोलीबारी में 11 लोगों की मौत हो गई थी. तमिलनाडु में द्रमुक एवं अन्य विपक्षी पार्टियों ने तूतीकोरिन में पुलिस की कार्रवाई की निंदा की है और घटना के विरोध में शुक्रवार को बंद का आह्वान किया है. Also Read - राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को झटका, गुजरात के दो और विधायकों ने दिया इस्तीफा