Mukesh Ambani: मुकेश अंबानी के आवास के बाहर से विस्फोट लदा वाहन बरामद होने के मामले की जांच गृह मंत्रालय ने एनआईए को सौंप दी है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सोमवार को अंबानी बम कांड मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंप दी. एनआईए ने महाराष्ट्र आतंकवाद विरोधी दस्ते (एटीएस) से जांच का जिम्मा अपने हाथों ले लिया है और अब वह मनसुख हिरेन की मौत सहित पूरे मामले की जांच करेगी.Also Read - टेरर फंडिग केस में यासीन मलिक को उम्रकैद, NIA कोर्ट ने 10 लाख का जुर्माना भी लगाया

एक अधिकारी ने सोमवार को ये जानकारी दी. प्रवक्ता ने बताया कि एजेंसी फिर से मामला दर्ज करने की प्रक्रिया में है. बता दें कि पिछले सप्ताह उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के निकट मिले विस्फोटक से लदे वाहन के मालिक हिरेन मनसुख का शव शुक्रवार को पड़ोसी ठाणे में एक नाले के किनारे पड़ा मिला था. जिसके बाद मामला और भी ज्यादा बढ़ गया है. Also Read - श्रीनगर में इंटरनेट सेवाएं बंद, यासीन मलिक की सजा के बाद कश्मीर में बढ़ाई गई सुरक्षा

गौरतलब है कि दक्षिण मुंबई में अंबानी के बहुमंजिला घर ‘एंटीलिया’ के निकट 25 फरवरी को मनसुख की ‘स्कॉर्पियो’ कार के अंदर जिलेटिन की छड़ें रखी हुई मिली थीं. पुलिस ने कहा था कि कार 18 फरवरी को एरोली-मुलुंद ब्रिज से चोरी हुई थी. बता दें कि हिरेन (46) की मौत की जांच एटीएस को सौंपने के औपचारिक आदेश शनिवार देर रात जारी किए गए थे. Also Read - NIA के डिप्‍टी एसपी और उनकी पत्‍नी की हत्‍या में कुख्‍यात गैंगस्‍टर मुनीर और उसके गुर्गे को फांसी सजा