नई दिल्ली: गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन द्वारा तीन पुलिसकर्मियों की हत्या किए जाने के बाद किसी पुलिसकर्मी ने इस्तीफा नहीं दिया है. मंत्रालय ने ऐसी रिपोर्टों को शरारती तत्वों का ‘गलत प्रचार’ बताया है. Also Read - गृह मंत्रालय ने कोविड-19 की निगरानी के लिए जारी किए दिशानिर्देश, वायरस के नए प्रकार के प्रति सतर्क रहने की जरूरत

Also Read - School Reopening Latest Update: इस राज्य में जल्द शुरू होंगे रेगुलर क्लासेज, शिक्षा मंत्री ने दिए ये संकेत

मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि जम्मू कश्मीर में कुछ विशेष पुलिस अधिकारियों ने इस्तीफे दिए हैं लेकिन राज्य पुलिस बल ने पुष्टि की है कि ये रिपोर्ट गलत और प्रेरित हैं. बयान में कहा गया, ‘‘ये रिपोर्ट शरारती तत्वों के गलत प्रचार पर आधारित हैं.’’ Also Read - महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध पर केंद्र सरकार सख्त, MHA ने जारी की नई एडवायजरी

गृह मंत्रालय ने कहा कि जम्मू कश्मीर में पेशेवर और प्रतिबद्ध पुलिस बल है जो आने वाले पंचायत और शहरी निकाय चुनावों से जुड़ी चुनौतियों सहित सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. बयान में कहा गया, ‘‘ वहां 30,000 से अधिक एसपीओ हैं और समय समय पर उनकी सेवाओं की समीक्षा की जाती है. कुछ शरारती तत्व ऐसा दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि वे एसपीओ जिनकी सेवाओं का प्रशासनिक कारणों से नवीनीकरण नहीं किया गया है, उन्होंने इस्तीफा दे दिया है.’’

बीएसएफ लेगी ‘बदला’, राजनाथ ने दिया जवान का गला काटने वाले पाक सैनिकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का निर्देश

मंत्रालय ने कहा कि जम्मू कश्मीर में आतंकवादी बैकफुट पर हैं. इस वर्ष अकेले शोपियां जिले में 28 आतंकवादियों को निष्क्रिय किया गया है. बयान में कहा गया, ‘‘राज्य पुलिस की सक्रिय कार्रवाई से आंतकवादी एक क्षेत्र में सीमित कर दिए गए हैं जिससे वे निराश हैं.’’ पुलिस ने कहा कि तीन पुलिसकर्मियों का दक्षिण कश्मीर के शोपियां में उनके घरों से अपहरण किया गया था और हिज्बुल मुजाहिद्दीन द्वारा उनकी हत्या कर दी गई.

जम्मू-कश्मीर में 2 SPO-एक कॉन्स्टेबल के शव मिले, आतंकियों ने किया था अगवा

इसके बाद ऐसी खबरें आईं थीं कि इन हत्याओं से पुलिस विभाग के निचले पदाधिकारियों में भय का माहौल है जिससे छह पुलिसकर्मियों ने इस्तीफा दे दिया है. इनमें से दो ने वीडियो मैसेज करके यह जानकारी दी थी.